उत्तर प्रदेशकानपुर

कानपुर में जीका का कहर! 15 दिनों में सामने आए 105 मामले, CM योगी आदित्यनाथ ने किया प्रभावित इलाकों का दौरा

कानपुर में जीका वायरस का आतंक लगातार तेज होता जा रहा है. जीका की चपेट में आए मरीजो का आंकड़ा 105 तक पहुंच गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यानी बुधवार को कानपुर में जीका प्रभावित इलाकों का दौरा किया और स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के साथ बैठक कर जल्द से जल्द इस पर काबू पाने के निर्देश दिए.

कोविड-19 वेक्सिनेशन के मामले में देश मे उत्तर प्रदेश अव्वल है. कोरोना वायरस के खिलाफ उत्तर प्रदेश ने मजबूती से लड़ाई लड़ी, लेकिन अब जीका वायरस की आमद ने यूपी को परेशान कर दिया है. जीका का असर अभी कानपुर में दिख रहा है, जहां मरीजो की संख्या 105 के आंकड़े पर पहुंच गई है. सीएम योगी ने आज कानपुर पहुंच कर जीका से प्रभावित इलाकों का दौरा किया और स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को इस लार्वा को खत्म कर जीका वायरस से फैल रही बीमारी पर रोक लगाने के निर्देश दिए.

कानपुर में 15 दिनों के अंदर जीका के 105 मरीज मिले

कानपुर में जीका वायरस के बढ़ते कहर ने पूरे शहर में तांडव मचा रखा है. बीते 15 दिनों में ही 105 मरीजो के सामने आने से सरकार टेंशन में आ गई है. कानपुर में पहला केस 24 अक्टूबर को सामने आया था और उसके बाद से अब लगातार नए मरीज सामने आ रहे हैं. शहर के परदेवनपुरवा, पोखरपुर, कालीबाड़ी, लालबंगला, शिवकटरा के साथ ही कई किलोमीटर दूर जीटी रोड पर काकोरी और श्याम नगर इस वायरस की चपेट में हैं.

इसी तरह शिवकटरा के बाद हाइवे के किनारे बसे कोयला नगर में भी जीका पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह का कहना है कि  सरकार ने कोविड के लिए जैसी रणनीति बनाई थी वैसा ही डेंगू और जीका के लिए किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि अभी केवल कानपुर नगर के 6 किमी के दायरे में ही जीका का असर है. राज्य सरकार इलाज का बेहतर प्रबंधन और जीका वायरस के खात्मे को लेकर गंभीर है. कन्नौज को छोड़ दिया जाए तो बाकी जिलों में अभी तक एक भी मरीज का न मिलना सरकार के प्रयासों की गंभीरता को दिखा रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button