उत्तर प्रदेशनोएडा

नोएडा के DM सुहास पर योगी सरकार की ‘विशेष कृपा’, 4 करोड़ नगद, एक साथ दी 5 वेतन वृद्धि

बैडमिंटन खिलाड़ी और गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई को के नाम रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड हो रहे हैं। उन्हें सरकार ने गुरुवार को नियमों में संशोधन कर एक साथ पांच वेतन वृद्धि देने के साथ चार करोड़ रुपये नगद दिए हैं। पूरे देश में पहली बार है जब किसी आईएएस अधिकारी को इस तरह से पांच वेतन वृद्धि दी गई है। इसके अलावा वह देश के पहले ऐसे आईएएस अधिकारी हैं जिन्होंने पैरा ओलंपिक में बैंडमिंटन में रजत पदक जीता है। उन्हें अर्जुन पुरस्कार देने की घोषणा भी हो चुकी है।

शौक को हमेशा जिंदा रखें: जिलाधिकारी

हिन्दुस्तान से हुई वार्ता में जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने कहा कि जो उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था, वह सम्मान उन्हें मिल रहा है। यह वर्ष 2021 उनके लिए यादगार बन गया है, जिसने उन्हें एक अलग पहचान दी है। इस साल में उन्हें उनके खेल ने वह सब कुछ दिया, जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। उन्हें पूरे देश से सम्मान मिला है। वह अपनी इस उपलब्धि को अपने शौक और लगन की जीत बताते हैं। उन्होंने युवाओं से कहा कि वह अपने शौक को हमेशा जिंदा रखें और उसके लिए समय निकालें और कभी भी अपने आत्मविश्वास को खत्म ना होने दें। इससे आप इतिहास रच सकते हैं।

जन्म से हैं दिव्यांग 

कर्नाटक के शिमोगा में जन्मे सुहास एलवाई जन्म से ही दिव्यांग हैं। उन्होंने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी से कंप्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग की। इसके बाद 2005 में उन्होंने सिविल सर्विस की परीक्षा दी और सफलता हासिल की। सिविल सेवा में उत्तर प्रदेश कैडर मिलने के बाद पहली पोस्टिंग आगरा में हुई। इसके बाद जौनपुर, सोनभद्र, आजमगढ़, हाथरस, महाराजगंज, प्रयागराज और गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी बने।

यहां परचम लहराया 

वर्ष 2016 बीजिंग एशियन चैंपियनशिप में स्वर्ण
वर्ष 2017 तुर्किश ओपन में रजत
वर्ष 2018 जकार्ता एशियन पैरा गेम्स में कांस्य
वर्ष 2018 नेशनल पैरा बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण
वर्ष 2019 आयरलैंड ओपन में रजत
वर्ष 2019 तुर्किश ओपन में स्वर्ण
वर्ष 2020 ब्राजील ओपन में स्वर्ण
वर्ष 2020 पेरू ओपन में स्वर्ण
वर्ष 2021 टोक्यो पैरा ओलम्पिक में रजत पदक

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button