उत्तर प्रदेशलखनऊ

एलडीए जेई के घर हुई चोरी, रिपोर्ट लिखाई दो लाख की और बरामद हुए 22 लाख

लखनऊ : लखनऊ विकास प्राधिकरण के एक अवर अभियंता चमन त्यागी के घर पिछले दिनों हुई चोरी में नया खुलासा हुआ है. अवर अभियंता चमन त्यागी ने पुलिस शिकायत में कुल दो लाख रुपये की चोरी बताई थी, लेकिन जब पुलिस ने आरोपित ड्राइवर को गिरफ्तार किया, तो उसके पास से 22 लाख की नकदी बरामद हुई. ड्राइवर ने चोरी कबूल की.

अब सवाल यह उठ रहा है कि एलडीए के जेई के पास इतना सारा नकद पैसा आया कहां से और उसने रिपोर्ट में चोरी गई सही राशि क्यों नहीं लिखाई. इस मामले की जांच शुरू हुई है और आरोपित जेई चमन त्यागी को उसके काम से हटा दिया गया है. माना जा रहा है कि आरोपित चमन त्यागी ने अवैध निर्माण के मामलों में जो कमाई की है, यह उसी का हिस्सा है.

यह चोरी बीते आठ अक्टूबर को हुई थी. जिसके बाद उन्होंने सुशांत गोल्फ सिटी थाने में शिकायत की थी. शिकायत में उन्होंने 2 लाख रुपये चोरी होने की बात कही थी जिसे उनका ड्राइवर चुराकर भाग गया था. इस मामले में पुलिस ने आरोपित ड्राइवर को गिरफ्तार किया तो उसके पास से 21 लाख 90 हजार रुपये नकद बरामद हुए. आरोपित ड्राइवर ने यह स्वीकार किया कि यह रुपये उसने चमन त्यागी के ओमेक्स रेजिडेंसी स्थित फ्लैट से ही चुराए हैं. इसके बाद इस पूरे मामले की एलडीए के भीतर तहकीकात शुरू हो गई. एक अवर अभियंता के पास करीब 22 लाख रुपये नकद कहां से आए इस पर भी सवाल उठाए जाने लगे.

करीब दो साल पहले तत्कालीन उपाध्यक्ष प्रभु एन सिंह ने चमन त्यागी को अवैध निर्माण से संबंधित कामों से हटाया था, जिसके बाद में चमन त्यागी दोबारा उसी काम को देखने लगे. 22 लाख नकद का यह मामला सामने आने के बाद एलडीए सचिव पवन सिंह गंगवार ने तीन दिन पहले चमन त्यागी से अवैध निर्माण संबंधित सभी काम वापस ले लिए और उनको कार्यालय की ही ड्यूटी पर लगा दिया गया.

सूत्रों की मानें तो चमन त्यागी को इस संबंध में अभी और भी गंभीर जांचों का सामना करना पड़ेगा, जिसमें उन पर सख्त एक्शन लिया जा सकता है. सुशांत गोल्फ सिटी थाने के इंस्पेक्टर विजेंद्र सिंह ने बताया कि चमन त्यागी के आवास से चोरी हुए रुपये उन्होंने बरामद किए. इसकी जानकारी लखनऊ विकास प्राधिकरण को दे दी गई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button