उत्तर प्रदेशवाराणसी

सोशल मीडिया के दौर में भी पत्रों की अहमियत बरकरार : पोस्टमास्टर जनरल

  • राष्ट्रीय डाक सप्ताह में मेल दिवस पर उत्कृष्ट ग्राहकों का सम्मान

वाराणसी। वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्रीकृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग नवीन सेवाओं और नई टेक्नोलॉजी के साथ अपनी सेवाओं के क्षितिज का निरंतर विस्तार कर नित्य समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंच रहा है। मोबाइल, ई-मेल और सोशल मीडिया के इस दौर में भी पत्रों की अपनी अहमियत है।

पोस्टमास्टर जनरल शनिवार को ‘राष्ट्रीय डाक सप्ताह’ में ‘मेल दिवस’ पर आयोजित ‘ग्राहक सम्मेलन’ को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज भी तमाम महत्वपूर्ण दस्तावेज- सरकारी व कोर्ट संबंधी पत्रों के साथ आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आई कार्ड, पैन कार्ड, विभिन्न बैंकों की चेक बुक व एटीएम कार्ड डाकघरों से ही भेजे जाते हैं। कार्यक्रम में ही डाक विभाग को स्पीड पोस्ट सेवा में सर्वाधिक व्यापार देने पर भारतीय जीवन बीमा निगम, मंडलीय कार्यालय, भेलूपुर, फर्स्ट फॉरेन सर्विस और क्षेत्रीय कर्मचारी भविष्य निधि कार्यालय, पहड़िया को पोस्टमास्टर जनरल ने सम्मानित किया।

इस दौरान उन्होंने बताया कि डाक विभाग ने तमाम कस्टमर फ्रेंडली सेवाएं आरंभ करके ग्राहकों को अपनी तरफ आकर्षित किया है। श्री काशी विश्वनाथ सहित तमाम प्रसिद्ध मंदिरों के प्रसाद और पवित्र गंगा जल स्पीड पोस्ट से लोगों के पास पहुंच रहे हैं। पार्सल वितरण के लिए नोडल डिलीवरी सेंटर और ई-कॉमर्स उत्पादों हेतु कैश ऑन डिलीवरी की सुविधा दी जा रही है। लेटर बॉक्स से नियमित निकासी हेतु ‘नन्यथा’ ऐप और डाक वितरण हेतु पोस्टमैन मोबाइल ऐप के माध्यम से डाकिया को हाईटेक बनाया गया है।

आज डाकिया सिर्फ पत्र ही नहीं लाता, वह चलता-फिरता बैंक बनकर वित्तीय समावेशन में भी अहम भूमिका निभा रहा है। इस अवसर पर पूर्वी मंडल के प्रवर अधीक्षक डाकघर राजन, डाक अधीक्षक संजय वर्मा, सहायक निदेशक राम मिलन, सीनियर पोस्टमास्टर चंद्रशेखर सिंह बरुआ, इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक मैनेजर मुक्ता, सहायक अधीक्षक अजय कुमार, आरके चौहान आदि की उपस्थिति रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button