उत्तर प्रदेशलखनऊ

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश का द्विवार्षिक अधिवेशन संपन्न हुआ

लखनऊ। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के लखनऊ जनपद का द्विवार्षिक अधिवेशन लोक निर्माण विभाग के डिप्लोमा इंजीनियर संघ भवन में आयोजित हुआ अधिवेशन में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित परिषद के प्रांतीय महामंत्री शिवबरन सिंह यादव ने कहा कि वर्तमान में सरकार द्वारा कर्मचारी शिक्षक एवं अधिकारियों की समस्याओं को अनदेखा किया जा रहा है। ऐसी स्थिति में आन्दोलन ही एकमात्र उपाय बचा है और किसी भी आन्दोलन सफलता का पूरा दरोमदार लखनऊ जनपद की कार्यकारिणी पर निर्भर करता है। जनपदीय इकाई का मजबूत होना अति आवश्यक है।

अधिवेशन में विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित डिप्लोमा इंजीनियर संघ लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय अध्यक्ष इंजीनियर एन०डी० द्विवेदी एवं परिषद के वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रेम कुमार सिंह ने पुरानी पेंशन सहित अन्य मांगों को लेकर कर्मचारी शिक्षक अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच उत्तर प्रदेश के आवाहन पर 5 अक्टूबर को प्रदेश के सभी जनपदों में मोटर साईकिल रैली से शुरू हो रहे आंदोलन में सभी घटक संघों से बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने और आंदोलन को सफल बनाने के लिए संदेश दिया। अधिवेशन के द्वितीय सत्र में निर्वाचन अधिकारी अविनाश चन्द्र श्रीवास्तव, संजीव कुमार गुप्ता एवं अमरजीत मिश्रा की उपस्थिति में जनपद का चुनाव संपन्न हुआ । जिसमें अमिता त्रिपाठी को जनपद अध्यक्ष, धर्मेंद्र सिंह को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, सुभाष चन्द्र तिवारी को जिला मंत्री एवं फईम अख्तर को सम्प्रेंक्षक चुना गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button