उत्तर प्रदेशमेरठ

मेरठ: पलक पांवड़े बिछाकर पैरालिंपिक खिलाड़ियों का किया स्‍वागत, हुए गदगद

मेरठ। टोक्यो पैरा ओलंपिक में पदक जीतने वाले खिलाडियों का खेलनगरी मेरठ में भव्य स्वागत किया गया। मेरठ में इतना अपनापन देखकर खिलाडी गदगद हो गए। खिलाडियों ने मेरठ की आवभगत को सराहा और प्रोत्साहन देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार की खूब सराहना की।

टोक्यो पैरा ओलंपिक में पदक जीतने वाले खिलाडियों और उत्तर प्रदेश के पैरा ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाडियों का गुरुवार को मेरठ में सम्मान किया जा रहा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन खिलाडियों का सम्मान करेंगे और प्रोत्साहन स्वरूप धनराशि प्रदान करेंगे। सम्मान समारोह से एक दिन पहले ही बुधवार को सभी खिलाडी मेरठ पहुंच गए। मेरठ में इन पदक विजेताओं का भव्य स्वागत किया गया।

मेरठ में 18 चौराहों पर रंग-बिरंगे स्वागत द्वार बनाए गए। मेरठ के खेल उद्यमियों ने भी खिलाडियों का स्वागत किया और स्मृति चिन्ह प्रदान किए। ऐसी आवभगत देखकर खिलाडी भी गदगद हो गए और उन्होंने मेरठ के सम्मान की दिल खोलकर प्रशंसा की। खिलाडियों ने अपने अनुभव साझा किए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस पहल की भूरि-भूरि प्रशंसा की। खिलाडियों ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की इस पहल से संदेश गया है कि दिव्यांग भी समान है। राष्ट्र निर्माण में उनका भी महत्वपूर्ण योगदान है। इससे खिलाडियों को समानता का अहसास हो रहा है।

टोक्यो ओलंपिक में शूटिंग में स्वर्ण विजेता अवनी लखेरा का कहना है कि ओलंपिक में स्वर्ण जीने का क्षण बहुत ही गौरवपूर्ण था। ऊंची कूद में कांस्य पदक विजेता शरद कुमार का कहना है कि खिलाडियों को समानता का अहसास कराने के लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बधाई के पात्र है। केंद्र सरकार ने खिलाडियों से हर कदम पर बातचीत की। दिव्यांग खिलाडियों के लिए देश में सुविधाएं बढाई जा रही है।

सम्मान समारोह में आ रहे 933 पैरा खिलाडी

मेरठ में हो रहे सम्मान समारोह में प्रदेश के सभी जनपदों से 933 पैरा खिलाडी भाग लेंगे। इनमें से 840 पुरुष और 93 महिला खिलाडी है। इनमें से 44 खिलाडी व्हील चेयर से समारोह में आएंगे। उनके स्वागत के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

17 खिलाडियों ने जीते थे 19 पदक

टोक्यो पैरा ओलंपिक में भारत की ओर से 40 पुरुष और 14 महिला पैरा खिलाडियों ने भाग लिया। इनमें 17 खिलाडियों ने 19 पदक जीते थे। भारत ने कुल 05 स्वर्ण, 08 रजत और 06 कांस्य पदक जीते। इन सभी पदक विजेताओं को खेलनगरी मेरठ में सम्मानित किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button