आगराउत्तर प्रदेश

आगरा के पाक परस्तों की मदद करेंगी महबूबा, वकीलों ने केस लड़ने से कर दिया था इंकार

आगरा. टी 20 वर्ल्डकप में ​हुए भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच में भारत की हार पर आगरा में पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वाले 3 कश्मीरी विद्यार्थियों की मदद के लिए अब महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी सामने आई है. पार्टी ने बयान जारी कर कहा कि भारत-पाकिस्तान क्रिक्रेट मैच के सिलसिले में अवैध गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत जिन लोगों पर मामला दर्ज किया गया है, उन सभी को यह पार्टी कानूनी मदद मुहैया कराएगी. इस मामले में आगरा में 3 कश्मीरी विद्यार्थियों को भारत की हार पर पाकिस्तान समर्थित नारे लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. महबूबा की पार्टी की ओर से इन्हें कानूनी मदद देने का कारण यह है कि आगरा की कई वकील एसोसिएशनों ने उनकी इस देशद्रोही हरकत के चलते तीनों को कानूनी सहायता करने से इनकार कर दिया था.

उल्लेखनीय है कि यूपी के आगरा सहित कश्मीर के श्रीनगर में भी पाकिस्तानी जीत पर खुशियां मनाने के आरोप में कई स्टूडेंट्स पर मामले दर्ज किए गए हैं. पीडीपी की इस मंशा को इसके प्रवक्ता अनिल सेठी ने ट्विवटर पर जारी एक पोस्ट से बताया. इसमें  उन्होंने लिखा ‘पीडीपी ने उन सभी को कानूनी मदद देने का डिसीजन लिया है, जिन पर भारत-पाकिस्तान क्रिक्रेट मैच के सिलसिले में यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया गया है.’ उन्होंने ट्वीट में यह भी लिखा है कि जिस जिसको इस मामले में कानूनी सहायता की जरूरत है, वे हमसे संपर्क कर सकते हैं.

क्या है पूरा मामला

वर्तमान में चल रहे टी-ट्वेंटी वर्ल्ड कप में विगत 24 अक्टूबर हुए भारत और पाकिस्तान के मैच में जब पाकिस्तान की जीत हुई तो आगरा के आरबीएस कॉलेज में 3 कश्मीरी छात्रों ने जश्न मनाकर पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए और इसका वीडियो सोशल मीडिया पर भी शेयर कर दिया था. जब दूसरे छात्रों ने उनसे इसे डिलीट करने को कहा तो उन्होंंने उनसे भी देशद्रोही भाषा में बात की. इसके बाद वह वीडियो वायरल हो गई और बीजेपी के युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने आरबीएस पहुंचकर हंगामा किया.

मामला तूल पकडता देखा कॉलेज प्रशासन ने तीनों को रस्टिकेट कर दिया. उनकी गिरफ्तारी हुई, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजाा गया. जब उन्हें पेशी के बाद बाहर ले जाया जा रहा था, तो अधिवक्ताओं और भीड़ ने उन पर एकाएक हमला बोलकर पिटाई लगा दी. इन तीनों छात्रों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा चलाया जाएगा और अब महबूबा मुफ्ती की पार्टी के इस पूरे मामले में कूदने से तगडी राजनीति शुरू होना तय है, क्याेंकि यूपी में तो पहले से चुनाव और राजनीति का माहौल चल ही रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button