उत्तर प्रदेशप्रयागराज

महंत नरेंद्र गिरी मौत मामला: आनंद गिरी सहित तीनों आरोपियों की बढ़ी न्यायिक हिरासत, 12 नवंबर को होगी सुनवाई

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत मामले में शनिवार को प्रयागराज के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कोट ने आनंद गिरी और संगत तट पर स्थित बड़े हनुमान मंदिर के मुख्य पुजारी आद्या तिवारी और संदीप तिवारी की न्यायिक हिरासत को बढ़ा दिया है.

तीनों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सीजेएम हरेंद्र तिवारी की कोर्ट में पेश किया गया. जहां कोर्ट ने 12 नवंबर तक तीनों की न्यायिक हिरासत बढ़ा दी है. साथ ही कोर्ट ने 12 नवंबर को जांच एजेंसी से अब तक की गई जांच की केस डायरी मांगी है. सीबीआई ने भी अब तक की विवेचना की प्रगति रिपोर्ट कोर्ट में दाखिल की है. बता दें, तीनों आरोपियों पर महंत नरेंद्र गिरि को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है. तीनों आरोपी आनन्द गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं.

20 सितंबर को हुई थी महंत नरेंद्र गिरि की मौत

महंत नरेंद्र गिरि की मौत 20 सितंबर को हुई थी. पुलिस के मुताबिक, उन्होंने फांसी लगाकर अपनी जान दी थी. मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ था, जिसमें उन्होंने परेशान होने की बात कही थी. सुसाइड नोट के आधार पर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इनमें आनंद गिरि, आद्या तिवारी और उनका बेटा संदीप तिवारी शामिल हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button