उत्तर प्रदेश

लखीमपुर कांड को जयंत चौधरी ने बताया आतंकी हमला, यूपी पुलिस की कार्यशैली पर उठाए सवाल

पीलीभीत/बरेली: यूपी के लखीमपुर खीरी के तिकोनिया में किसानों की अरदास में शामिल होने जा रहे राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी को बरेली पुलिस ने लगभग आधे घंटे तक एयरपोर्ट पर रोक कर रखा. जिसके बाद उनके कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट गेट पर बैठकर जमकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की. हालांकि आधे घंटे तक रोकने के बाद जयंत चौधरी को लखीमपुर जाने दिया गया. पीलीभीत पहुंचने पर मीडिया से बातचीत में जयंती चौधरी ने लखीमपुर की घटना को आतंकी हमला करार दिया. आरएलडी नेता जयंत चौधरी मंगलवार को बनवारीपुर में आयोजित किसानों की अंतिम अरदास में शामिल होने के लिए निकले थे. इस दौरान पीलीभीत के आसाम चौराहे पर जयंत चौधरी ने मीडिया से बातचीत की.

उन्होंने कहा कि लखीमपुर में हुई घटना का अभी न्याय नहीं हुआ है. यूपी पुलिस के काम करने का एक अपना ही तरीका है. अब तक मैंने ऐसा नहीं देखा कि हत्या का मामला दर्ज हुआ हो और पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी न की हो. पुलिस दबाव के कारण सहज रवैया अख्तियार कर रही है. आरोपी को जवाब देने के लिए नोटिस भेजा जा रहा है और आरोपी खुद टहलते हुए पुलिस के पास जा रहा है. यह सब संदेह के घेरे में है. जब तक मंत्री बर्खास्त हो कर गिरफ्तार नहीं हो जाते तब तक संघर्ष जारी रहेगा. जयंत चौधरी ने कहा कि लखीमपुर में घटित हुई घटना कोई मामूली हमला नहीं बल्कि एक आतंकी हमला है.

आरएलडी नेता जयंत चौधरी ने बरेली एयरपोर्ट पर पुलिस द्वारा काफिला रोके जाने का आरोप लगाया. आरएलडी नेता जयंत चौधरी ने बताया कि मेरे खिलाफ पूरे देश के भी थाने में मुकदमा दर्ज नहीं है. ऐसे में कौन से अपराध के कारण बार-बार रोका जा रहा है. उन्होंने सवाल पूछते कहा कि क्या अंतिम अरदास में जाना गुनाह है.

राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी मंगलवार की सुबह बरेली एयरपोर्ट पहुंचे. जहां से उनको पीलीभीत होते हुए लखीमपुर खीरी में किसानों की अरदास सभा में शामिल होने जाना था. उनके आने से पहले बरेली एयरपोर्ट पर भारी पुलिस फोर्स तैनात थी. जैसे ही वो बरेली एयरपोर्ट पहुंचे तभी बरेली पुलिस प्रशासन ने उन्होंने लखीमपुर खीरी जाने से रोक दिया और एयरपोर्ट के अंदर ही जयंत चौधरी को आधे घंटे तक रोक कर रखा. काफी देर तक बरेली पुलिस प्रशासन से बातचीत होने के बाद जयंत चौधरी को लखीमपुर खीरी जाने दिया गया. एयरपोर्ट के बाहर जयंत चौधरी का इंतजार कर रहे उनके पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जयंत चौधरी के अंदर रोके जाने के बाद बरेली पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और एयरपोर्ट गेट पर धरने पर बैठ गए. इस दौरान उन्होंने जमकर नारेबाजी भी की. आधे घण्टे रोकने के बाद पुलिस ने जयंत चौधरी को लखीमपुर जाने दिया गया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button