उत्तर प्रदेशलखनऊ

जेल में बंद पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर ने चुनाव आयोग से UP में की आचार संहिता लगाने की मांग

लखनऊ: पूर्व आईपीएस और एक मामले में जेल में बंद अमिताभ ठाकुर ने चुनाव आयोग से विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगाने की मांग की है. रेप पीड़िता के बयान के आधार पर जेल भेजे गए पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने जेल से चुनाव आयोग को पत्र भेजकर 15 अक्टूबर से 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश के विधानसभा को लेकर आचार संहिता लगाने की मांग की है.

उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि लगभग सभी पार्टियों ने अपने प्रत्याशियों की लिस्ट तैयार कर ली है और प्रचार शुरू कर दिया है. अतः आगामी विधानसभा चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शिता के साथ कराने को लेकर प्रदेश में आचार संहिता लागू की जाए, हालांकि चुनाव आयोग ने अभी ऐसे किसी पत्र के मिलने से इंकार किया है.

उल्लेखनीय है कि पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने गोरखपुर से मुख्यमंत्री के खिलाफ अगस्त में चुनाव लड़ने का एलान किया था. जिसके बाद उन्हें गोरखपुर व अयोध्या जाने से रोकते हुए तीन दिन तक आवास पर ही नजरबंद रखा गया था, लेकिन बाद में दिल्ली में रेप पीड़िता की आत्मदाह मामले में उन्हें 27 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था.

गौरतलब है कि बीते 21 अगस्त को दिल्ली के सुप्रीम कोर्ट के बाहर रेप पीड़िता और उसके एक साथी ने खुदकुशी करने का प्रयास किया था. इस दौरान दोनों ने फेसबुक पर लाइव वीडियो में बसपा सांसद अतुल राय पर रेप करने और अमिताभ ठाकुर पर सांसद के इशारे पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था. जिसके आधार पर उन्हें गिरफ्तार किया गया था. जिसके बाद उनके पत्र लिखने की जानकारी मिली है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button