उत्तर प्रदेशकुशीनगरसत्ता-सियासत

बाजार में खड़ा होगा किसान तो कमजोर होगा देश, कुशीनगर में गरजे अखिलेश

कुशीनगर। पूर्व मुख्यमंत्री व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि एक तरफ यूरोपीय देशों की सरकारें अपने देश के किसानों को मजबूत व समृद्ध बनाने के लिए कई प्रकार की योजनाएं लागू कर सहायता प्रदान कर रही हैं, दूसरी तरफ भाजपा के केन्द्र व राज्य की सरकार किसानों को बाजार के हवाले करने पर आमादा है। किंतु समाजवादी पार्टी भाजपा सरकार को ऐसा नहीं करने देगी और तीन काले कृषि कानूनों के वापसी तक किसान व किसान आंदोलन के साथ पूरी मुस्तैदी से खड़ा रहेगी। बाजार के भरोसे देश में खुशहाली नहीं आयेगी।

सपा प्रमुख रविवार को कुशीनगर विधानसभा क्षेत्र के मालती पांडेय कालेज में जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। इसके पूर्व उन्होंने फाजिलनगर व सेवरही में जनसभा की। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को किसानों ने बचाया है। किन्तु सरकार अन्नदाता को अपमानित करने पर तुली है। गन्ना किसानों की नहीं सुनी जा रही है। उनको बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं किया जा रहा। खाद की बोरी में घटतौली की जा रही है। लखीमपुर में किसानों की हत्या करने का कार्य इस सरकार ने किया है। पूर्व मंत्री ब्रह्मशंकर त्रिपाठी, राधेश्याम सिंह, एमएलसी रामअवध यादव, जिलाध्यक्ष डॉ. मनोज यादव, राजेश प्रताप राव उर्फ बंटी समेत कई वरिष्ठ नेताओं ने अखिलेश का कुशीनगर आगमन पर स्वागत किया।

योगी नहीं योग्य सरकार चाहिए

अखिलेश ने कहा कि प्रदेश में योगी नहीं योग्य सरकार की जरूरत है। 22 मिनट के भाषण में 58 बार अखिलेश ने मुख्यमंत्री का नाम लिया। 2022 में बदलाव तय है। विजय रथ यात्रा में अपार समर्थन से यह तय हो गया है। अखिलेश ने कहा कि योगी सरकार ने कोई कार्य नहीं किया। बल्कि सपा के कार्यों का रंग रोगन कर शिलान्यास उद्घाटन कर दिया। उन्होंने कहा कि नकल भी की तो वह पकड़ में आ गई। एक्सप्रेस वे या मेट्रो रेलवे हो या सबकी नकल भाजपा ने की। कुशीनगर एयरपोर्ट सपा की देन है। एक्सप्रेस वे पर जगुआर और मिराज सपा ने उड़ाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button