अयोध्याउत्तर प्रदेश

अयोध्या में आज से दीपोत्सव शुरू, दीपों से जगमगाई भगवान श्रीराम की नगरी; बनेगा वर्ल्ड रिकॉर्ड

भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या को दीपों से सजाया गया है और आज से दीपोत्सव कार्यक्रम शुरू हो रहा है. अयोध्या में उल्लास का माहौल है और भगवान श्रीराम की नगरी में उनके स्वागत के लिए हर कोने में दीप जलाया जाएगा. असल में राज्य में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद ये पांचवां दिव्य दीपोत्सव है और इसका मुख्य आयोजन तीन नवंबर आयोजित किया जाएगा. इस दिन सरयू घाट को नौ लाख दीपों से सजाया जाएगा और अयोध्या एक बार फिर नया विश्व रिकॉर्ड बनाएगी. वहीं रविवार को मुख्यमंत्री ने अयोध्या जाकर तैयारियों का निरीक्षण किया और 24 घंटे के भीतर सभी अधूरे काम पूरे करने के निर्देश दिए.

दरअसल अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर के निर्माण के बीच दीपोत्सव का महत्व बढ़ गया और आज से शुरू हो रहा पांच दिवसीय दीपावली पर्व शुरू हो गया है. राज्य में बीजेपी की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2017 में दीपोत्सव की नींव रखी थी और उसके बाद लगातार राज्य में दीपोत्सव कार्यक्रम आयोजि किया जा रहा है. वहीं 2019 में राम मंदिर के पक्ष में फैसला आने के बाद दीपोत्सव पर्व का उत्साह कई गुना बढ़ गया. जबकि राम मंदिर का कार्य बड़े तेजी से चल रहा है और नींव का काम पूरा होने वाला है.

तीन नवंबर को होगा मुख्य कार्यक्रम

ऐसे में अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम का महत्व बढ़ गया है और दीपोत्सव कार्यक्रम के लिए पूरी अयोध्या आनंदित और उल्लास में. जानकारी के मुताबिक पांच दिन तक चलने वाले इस महोत्सव का मुख्य आयोजन तीन नवंबर को होगा. मुख्य कार्यक्रम के दिन राज्यपाल, सीएम योगी सहित कई मंत्री और विदेशी मेहमान शिरकत करेंगे. इस दिन पूरे रामनगरी में करीब 12 लाख दीप जलाए जाएंगे.

राम की पैड़ी पर जलेंगे नौ लाख दीपक

बताया जा रहा कि अकेले राम की पैड़ी पर नौ लाख दीपक जलाकर रोशनी की तैयारी की जा रही है. बाकी तीन लाख दीपक रामनगरी के अन्य स्थानों, मठों और मंदिरों में जलाए जाएंगे. वहीं हाईवे और साकेत कॉलेज से राम की पैड़ी तक कुल 20 प्रवेश द्वार रामायण युग को जीवंत करते नजर आ रहे हैं. यहां पर रामायण पर आधारित 20 तोरण द्वार बनाए गए हैं. जिसमें इल्केट्रिक कलश, दीप, झालर लाइटिंग के माध्यम से पूरे शहर को रोशन करने की तैयारी की गई है. सरयू पुल पर भव्य लाइटिंग का काम किया गया है तो गोंडा सीमा तक सरयू पुल को फूलों से सजाया जा रहा है.

लेजर शो की तैयारी

राम की पैड़ी पर प्रोजेक्शन मैपिंग और लेजर शो की तैयारी चल रही है और इस बार प्रोजेक्शन मैपिंग के जरिए राम की गाथा को जीवंत करने की तैयारी अयोध्या में की गई है. यही नहीं राम की पैड़ी का हेरिटेज लुक भी इस बार का आकर्षण है. जबकि रामकथा पार्क को रामदरबार की थीम पर सजाया गया है. यहां पर रामायण सम्मेलन की प्रदर्शनी भी लगाई गई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button