उत्तर प्रदेशलखनऊ

‘डेंगू और जीका वायरस पर लगाम कसने के लिए कोरोना का फॉर्मूला कारगर’ सीएम योगी ने अधिकारियों को दिए ये जरूरी निर्देश

यूपी में बड़े स्तर पर डेंगू के मामले सामने आने के साथ ही जीका वायरस के मामलों ने भी हड़कंप मचा दिया है. बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम योगी ने अधिकारियों को डेंगू और जीका वायरस फैलने की जांच के आदेश दिए हैं. सीएम योगी ने इस पर लगाम कसने के लिए कोरोना के ‘टेस्ट, ट्रेसिंग और ट्रीट’ का फॉर्मूला लागू करने का आदेश दिया है.बता दें कि कानपुर में जीका वायरस के अब तक 11 मामले सामने आ चुके हैं. बड़ी संख्या में वायरस के मामले सामने आने से हड़कंप मचा हुआ है.सीएम योगी ने कहा है कि डेंगू और जीका वायरस के हालात को देखते हुए सतर्क और जागरुक रहने की जरूरत है.

सीएम ने अधिकारियों से कहा कि डेंगू की जांच बहुत ही संजीदगी से की जाए. इसके साथ ही बीमारी से जूझ रहे मरीजों का अस्पताल में इलाज सुनिश्चित किया जाए. उन्होंने अधिकारियों को इसके लिए सभी जरूरी इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने कहा कि हर रोगी के स्वास्थ्य के हालात पर नजर और निगरानी बढ़ाई जाए. इसके साथ ही उन्होंने डेंगू और जीका वायरस की रोकथाम के लिए सफाई और फॉगिंग अभियान चालाने के निर्देश दिए. साथ ही निगरानी समितियों का पूरी तरह से उपयोग करने के निर्देश भी सीएम योगी ने अधिकारियों को किए हैं.

डेंगू और जीका वायरस पर भी लागू हो कोरोना फॉर्मूला

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से कहा कि यूपी के 41 जिलों में कोरोना का कोई भी एक्टिव मामला नहीं है. वहीं पिछले चौबीस घंटों में 1.38 लाख टेस्ट किए गए. उन्होंने बताया कि यूपी के 70 जिलों में कोरोना का एक भी ताजा मामला सामने नहीं आया है. वहीं पांच जिलों में सिर्फ 7 नए मामले दर्ज किए गए हैं. इसके साथ ही उन्होंने लोगों से सावधानी बरते जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए. इसके साथ ही कोरोना की रोकथाम के लिए इस्तेमाल किए जाने वाली टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीट के फॉर्मूले को सीएम ने डेंगू और जीका वायरस पर लगाम के लिए उपयुक्त बताया.

अधिकारियों को दिए सतर्कता बरतने के निर्देश

उन्होंने कहा कि देश के कई राज्यों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि ऐसे हालात में सतर्कता और सावधानी बरते जाने की जरूरत है. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की सतर्कतापूर्वक टेस्टिंग की जाए. त्योहारी सीजन में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाना चाहिए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button