उत्तर प्रदेशकानपुरसत्ता-सियासत

भाजपा की केन्द्र व प्रदेश की योगी सरकार ने जनता को सपने दिखाकर सिर्फ ठगा : शिवपाल यादव

कानपुर देहात। 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए अब सभी राजनैतिक पार्टियां अपनी-अपनी रथ यात्रा निकालकर जनता को लुभाने में लगी हुई है। भतीजे अखिलेश के साथ चाचा शिवपाल सिंह यादव ने भी अपनी रथ यात्रा की शुरुआत की थी। उन्होंने शुभारंभ मथुरा से कर अयोध्या में खत्म करने की बात कही। वहीं सोमवार को दूसरे चरण सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा कानपुर देहात से निकाली।

इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुई शिवपाल यादव ने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने जो जनता से वादे किए थे वो पूरे नहीं किये। जो सपने जनता को दिखाए वो सिर्फ बातें थी। जनता को ठगा गया है। देश पर कर्ज बढ़ा है और उत्तर प्रदेश पर भी कर्ज बढ़ा है। शिवपाल यादव ने कहा कि उप्र में जब हमारी (सपा) की सरकार थी तब किसानों, गरीबों को 02 बल्ब, 02 पंखा की सुविधा फ्री में दी गई थी। प्रदेश में प्रसपा सरकार बनने पर 300 यूनिट बिजली फ्री दी जायेगी।

बता चलें कि, कानपुर देहात से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने आज दूसरे चरण की सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा की शुरुआत करने पहुंचे। कानपुर देहात से निकालकर यात्रा कालपी, जालौन, उरई से होते हुए झांसी तक पहुचेंगे। ये 07 चरणों में पूरे उत्तर प्रदेश के जिलों से निकलकर अयोध्या राम की जन्मभूमि में समापन होगी। इस दौरान सैकड़ों कार्यकर्ता कार्यक्रम में मौजूद रहें।

गौरतलब है कि, प्रसपा की सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा के वाहन पर शिवपाल यादव ने समाजवादी पार्टी के जन्मदाता यानी संस्थापक नेताजी मुलायम सिंह यादव की तस्वीर भी अपने साथ लगवा रखी है। यानी ये माना जा रहा है कि बेटे अखिलेश यादव के साथ भाई शिवपाल यादव को भी नेताजी का आशीर्वाद प्राप्त है।

हाइवे पर लगा जाम, घंटों फंसे रहे वाहन सवार

प्रसपा की दूसरे चरण की निकलने वाली सामाजिक परिवर्तन यात्रा के चलते नेशनल हाइवे-27 पर कई घंटों तक जाम रहा। कानपुर देहात के पुखरायां से यात्रा की शुरूआत के चलते प्रसपा कार्यकर्ताओं ने नेशनल हाइवे पर गाड़ियां खड़ी कर दी, जिसके कारण भीषण जाम हाइवे पर लग गया। इस दौरान सैकड़ों वाहन हाइवे में फंस गए और लम्बा जाम लग गया। जाम के चलते घंटों वाहन सवार परेशान हुए और यातायात नियमों का पालन न करने वाले नेताओं व उनके कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई किए जाने की बात कहते नजर आएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button