उत्तर प्रदेशलखनऊसत्ता-सियासत

जिन्ना का समर्थन करने वाले ही असली तालिबानी समर्थक, लखनऊ में बोले सीएम योगी

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव तिथियों के निकट आने के साथ ही राजनीतिक हमलों का दौर शुरू हो गया है। अफगानिस्तान में तालिबान शासन आने के बाद कुछ धड़ों से उसका समर्थन किए जाने पर रविवार को लखनऊ के सामाजिक सम्मेलन में करारा हमला बोला। उन्होंने प्रदेश की जनता को इस प्रकार की विचारधारा से सतर्क रहने की सलाह दी। सीएम योगी ने कहा कि पूरे देश की कम्युनिस्ट और अलगाववाद की विचारधारा उत्तर प्रदेश में आ चुकी है। वे पूरे देश को गुमराह करना चाहते हैं। इनसे सतर्क रहने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में तालिबान शासन पर हमला करते हुए कहा कि 20 साल पहले अफगानिस्तान में तालिबानियों ने बुद्ध की प्रतिमा को तोप लगाकर उड़ा दिया था। वे भारत की आत्मा को ठेस पहुंचाना चाहते थे। लेकिन, वे भूल गए थे कि क्रिया की प्रतिक्रिया होती है। बाद में उसी तालिबान की कितनी दुर्दशा हुई, जब अमेरिका ने ड्रोन से उन पर हमला किया। योगी ने कहा कि आपने देखा होगा कि अमेरिकी बम गिराए जाने से तालिबानी मारे जाने लगे। हमने कहा था कि गौतम बुद्ध की मूर्ति के साथ उन्होंने जो किया, उसके लिए भगवान उन्हें दंडित कर रहे हैं।

जिन्ना का समर्थन करने वाले कर रहे तालिबान का समर्थन

सीएम योगी ने बिना सपा प्रमुख अखिलेश यादव का नाम लिए बिना जिन्ना वाले बयान पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास मुद्दा नहीं है। वह सरदार पटेल का अपमान करना चाहती है। राष्ट्र नायक सरदार पटेल एक तरफ हैं और राष्ट्र को तोड़ने वाले जिन्ना दूसरी ओर हैं। वे लोग जिन्ना का समर्थन करते हैं और हमलोग सरदार पटेल का। उन्होंने कहा कि आज सत्ता के लिए जो लोग जिन्ना का समर्थन कर रहे हैं, वे एक प्रकार से तालिबान का समर्थन कर रहे हैं। ऐसे लोगों से सतर्क रहने की जरूरत है। वे सत्ता के लिए कुछ भी कर सकते हैं।

तालिबान का समर्थन महिलाओं का अपमान

योगी ने तालिबान के समर्थन को सीधे-सीधे महिलाओं व भगवान बुद्ध के अपमान से जोड़ दिया। उन्होंने कहा कि आज भी हमारे देश में बहुत से लोग हैं, जो तालिबान का समर्थन कर रहे हैं। तालिबान के समर्थन का मतलब है, महिलाओं का अपमान। भगवान बुद्ध का अपमान। इस प्रकार के लोगों से सतर्क रहने की जरूरत है। योगी ने इस बयान के जरिए सीधे-सीधे विपक्ष को घेरने की कोशिश की है। बुद्ध व महिलाओं को जोड़कर वे एक बड़े तबके को संदेश देने का प्रयास कर रहे हैं।

भाजपा ने जो कहा, कर दिखाया

योगी ने भाजपा शासन की ओर से किए गए वादों को को पूरा करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने जो कहा, वह करके दिखाया है। कश्मीर से धारा 370 हटाने की बात कही, वह हटा दिया गया। अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने की बात कही थी, आज अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पिछली सरकारों के कालखंड में कभी भी ऐसा कोई कार्य नहीं हुआ, जिसके बारे में आप कह सकते हैं कि उसने भारत के गौरव को बढ़ाया है। जो लोग आज विभाजन की बात करते हैं, वे एक प्रकार से प्रत्यक्ष रूप से तालिबानीकरण को समर्थन देने का कार्य करते हैं।

सबको मिल रहा विकास योजनाओं का लाभ

सीएम योगी ने विकास योजनाओं का लाभ हर किसी तक पहुंचाने की बात कही। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के पहले आवास योजना का लाभ चेहरा देखकर मिलता थ। सत्ताधारी दल के हैं तो मिलेगा। विधायक आपकी जाति का है तो मिलेगा, वरना नहीं मिलेगा। आज देश के अंदर 10 करोड़ लोगों को आवास मिल गए हैं। हमने विकास योजनाओं में कोई भेदभाव नहीं किया।

इतिहासकारों पर भी निशाना

योगी ने इतिहासकारों पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि देश के साथ बड़ा धोखा हुआ है। चंद्रगुप्त मौर्य से हारने वाले सिकंदर को महान बता दिया गया। इसके बाद भी इतिहासकार इस पर मौन साधे हुए हैं। वे इन सब मुद्दों पर मौन हैं। अगर सच्चाई देश के लोगों के मन में आ गई तो समाज और देश खड़ा हो जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button