उत्तर प्रदेशलखनऊसत्ता-सियासत

अखिलेश यादव को लगा झटका! SP विधायक सुभाष पासी BJP में हुए शामिल; प्रदेश अध्यक्ष ने दिलाई सदस्यता

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा 2022 चुनाव से पहले एक दूसरी पार्टियों के नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करने का लगातार जारी है. वहीं, इसी क्रम में अब BJP ने गाजीपुर जिले की सैदपुर विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के विधायक सुभाष पासी को अपनी ओर खींच लिया है. वहीं, सपा से निष्कासित हुए विधायक सुभाष पासी ने मंगलवार को बीजेपी की सदस्यता ले ली. उन्हें प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई.

दरअसल, इसके पहले समाजवादी पार्टी विधायक सुभाष पासी को पार्टी विरोधी गतिविधियों का हवाला देते हुए सपा से निष्कासित कर दिया गया था. जहां, सुभाष पासी गाजीपुर जिले की सैदपुर विधानसभा सीट से सपा के विधायक थे. वहीं, बीते दिनों सुभाष ने दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह और कल लखनऊ में सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की थी.

बीते दिनों पत्नी को बनाया गया था महिला सभा का राष्ट्रीय सचिव

गौरतलब है कि बीजेपी में शामिल होने की चर्चाओं के बीच सपा ने सुभाष पासी को पार्टी से निष्कासित कर दिया है. सपा की ओर से सुभाष पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया गया है. बता दें कि कुछ दिन पहले ही समाजवादी पार्टी ने सुभाष पासी की पत्नी रीना पासी को सपा महिला सभा का राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किया था.

विधायक सुभाष अपने समर्थकों के साथ हुए शामिल

बता दें कि सुभाष पासी के इस कदम के बाद सपा की गाजीपुर में बड़ी क्षति मानी जा रही है. साल 2017 में बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष विद्यासागर सोनकर को हराया था. उस चुनाव में बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत सैदपुर में झोंक दी थी. वहीं, सुभाष पासी मूल रूप से मालवीय नगर, नगर पंचायत सैदपुर, के रहने वाले हैं. उनकी पत्नी रीना पासी जिला पंचायत की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं. उन्होंने साल 1975 में पुणे बोर्ड महाराष्ट्र से हाईस्कूल तक की शिक्षा प्राप्त की. साल 2012 में चुनाव लड़े और विधायक बन गए. इनका मेन कारोबार मुंबई में है और परिवार के साथ वहीं रहते हैं. सुभाष पासी के अलावा ब्लॉक प्रमुख और जिला पंचायत सदस्य भी बीजेपी में शामिल हुए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button