उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

सपा कार्यालय पर मना खंजाची का जन्मदिन, अखिलेश ने कहा- ट्रिपल इंजन की सरकार ने ध्वस्त की कानून-व्यवस्था

सपा अध्यक्ष व यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने आज यानी मंगलवार (09 नवंबर) को ‘खंजाची’ का पांचवा जन्मदिन मनाया। जन्मदिन का यह कार्यक्रम लखनऊ स्थित समाजवादी पार्टी के कार्यालय पर आयोजित हुआ। बता दें कि ‘खंजाची’ का जन्म नोटबंदी के दिन कानपुर के एक बैंक में हुआ था। बैंक जन्म होने के कारण इस बच्चे का नाम ‘खंजाची’ पड़ा था। इस दौरान सपा अध्यक्ष ने पार्टी कार्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर निशाना साधा। साथ ही, अखिलेश ने समाजवादी इत्र भी लॉच किया।

नोटबंदी के पांच साल पूरे होने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, ‘खंजाची का जन्मदिन भारतीय जनता पार्टी को मनाना चाहिए था। जिनकी वजह से नोटबंदी हुई, जिन्होंने नोटबंदी की आजतक पीछे मुड़कर नहीं देखा उन्होंने। अखिलेश ने कहा कि जन्मदिन तो असली भारतीय जनता पार्टी को मनाना चाहिए। लेकिन पांच साल बीत जाने के बाद भी उन्होंने खंजाची का जन्मदिन नहीं मनाया। अखिलेश ने कहा कि बीजेपी यह भी नहीं बता रही है कि नोटबंदी के फायदे क्या हुए है।’ अखिलेश यादव ने कहा कि जो मास्टर स्ट्रोक था ब्रेन स्ट्रोक निकला।

अखिलेश यादव ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि नोटबंदी के समय कहा गया था कि भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा, लेकिन बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार बढ़ा है। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का भ्रष्टाचार तो सभी सीमाओं को तोड़ चुका है। यूपी के अंदर हर स्तर पर भ्रष्टाचार चल रहा है। अखिलेश ने कहा कि वहीं बीजेपी की सरकार जो दावा करती थी, लोगों को बताया था कि जो नए नोट है उसके अंदर चीप लगी हुई है। जिससे यह पता लग जाएगा कि यह रुपया कहा गया है। बड़े-बड़े न्यूज़ चैनल भी ऐसी बहस कर रहे थे। पांच साल बीत गए अब बीजेपी वालों यह बताना चाहिए कि काला धन कहा है।

अखिलेश यादव ने कहा कि आपका हमारा लेन-देन काला-सफेद होता है, रुपया काला-सफेद नहीं होता। कहा कि बीजेपी की सरकार ने जनता को परेशान करने के लिए नोटबंदी जानबूझकर की गई थी। यादव ने कहा कि इतने साल गुजर गए, अब तो बीजेपी को इसके फायदे बताने चाहिए। अखिलेश ने कहा कि जो आज देश में अर्थव्यवस्था के हालात है वो बीजेपी की गलत नीतियों के कारण है। कहा कि अपने पैसे के लिए आम जनता को लाठी खानी पड़ी। अपमानित होना पड़ा।

लखीमपुर खीरी की घटना का जिक्र करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि ट्रिपल इंजन की सरकार कानून-व्यवस्था को ध्वस्त कर रही है। दिल्ली वाला इंजन, लखनऊ और लखीमपुर वाला इंजन। यह डबल इंजन की सरकार नहीं ध्वस्त कर रही कानून व्यवस्था, बल्कि ट्रिपल इंजन की सरकार कानून-व्यवस्था को ध्वस्त कर रही है। फर्रुखाबाद की फतेहगढ़ जिला जेल का जिक्र करते हुए अखिलेश ने कहा कि यह ठोको नीति का परिणाम है। आज कौन किस को ठोक रहा है यही नहीं पता है। कैदियों ने जेल, डिप्टी जेल सबको ठोक दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा एसआईटी पर भी अब सवाल खड़े होने लगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button