उत्तर प्रदेशगोरखपुर

एम्स गोरखपुर में होगी 400 स्टाफ नर्स की भर्ती, जल्‍द आएगी वेकेंसी

गोरखपुर। पूर्वांचल वासियों के लिए बड़ी खबर है। एम्स में हॉस्पिटल का पहला ब्लॉक बनकर तैयार हो चुका है। इस ब्लॉक में 300 बेड होंगे। मरीजों को देखते हुए एम्स में कर्मचारियों की भर्ती भी शुरू हो गई है। इसकी जिम्मेदारी एम्स दिल्ली को मिली है। इसके तहत 400 नर्सों की भर्ती एम्स प्रशासन कर रहा है। इसके लिए बकायदा लिखित परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। वैकेंसी एम्स दिल्ली के द्वारा निकाली जा रही है।

यह जानकारी एम्स की कार्यकारी निदेशक डॉ. सुरेखा किशोर ने दी। उन्होंने बताया कि एम्स में मरीजों को भर्ती करने की तैयारियां तेज हो गई है। एम्स में बनने वाले हॉस्पिटल के एक भाग के भवन का निर्माण पूरा हो गया है। इस भाग में करीब 300 बेड का हॉस्पिटल संचालित हो सकेगा। इसके लिए आवश्यक कर्मचारियों और पैरामेडिकल स्टाफ की नियुक्ति की जिम्मेदारी एम्स दिल्ली को दी गई है। एम्स दिल्ली ने इस समय 400 नर्सों की भर्ती की प्रक्रिया संचालित की है। जबकि 200 नर्सों की भर्ती प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इसके साथ ही एम्स दिल्ली सपोर्टिंग स्टाफ की भी तैनाती और भर्ती करेगा। भर्ती व चयन प्रक्रिया पूरी करने के बाद उन कर्मचारियों एम्स गोरखपुर को रिपोर्ट करनी होगी।

15 दिसंबर तक कर सकते हैं प्रधानमंत्री लोकार्पण

पूर्वी यूपी के पहले एम्स का निर्माण तेज गति से चल रहा है। बीते 22 जुलाई 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका शिलान्यास किया था। 24 फरवरी 2018 को प्रधानमंत्री ने एम्स की ओपीडी की शुरूआत की थी। पहले चरण में 11 विभागों की ओपीडी शुरू हुई थी। अब यह बढ़कर 15 विभाग हो गई है। समय के साथ एम्स प्रशासन इसका धीरे-धीरे विस्तार कर रहा है। वर्ष 2019-20 में एमबीबीएस के पहले बैच की एंट्री हुई। इस दौरान कोरोना संक्रमण के कारण निर्माण की गति भी थम गई। करीब डेढ़ साल एम्स का निर्माण प्रभावित रहा है। अधिकारियों का मानना है कि छठ के बाद एक बार फिर निर्माण में तेजी आएगी। अधूरे कार्य पूरे होंगे।

मिलेंगे उच्च गुणवत्ता वाले कर्मचारी

बताया जाता है कि एम्स दिल्ली नए चयन की पारदर्शी प्रक्रिया अपनाई है। लिखित और इंटरव्यू के आधार पर चयन होगा। इस दौरान देश भर से आवेदक इसमें शामिल हो सकते हैं। प्रशासन का मानना है कि इससे उच्च गुणवत्ता के कर्मचारी मिलेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button