उत्तर प्रदेशलखनऊ

6 सितंबर को लखनऊ की गलियां-गलियां हो जाएंगी जाम: चंद्रशेखर

लखनऊ। आजाद समाज पार्टी के मुखिया और भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद ने योगी सरकार को खुली चुनौती दी है। चंद्रशेखर आजाद ने कहा है कि छह सितंबर को एक बड़ा प्रदर्शन किया जाएगा। जिसमें लखनऊ की गलियां-गलियां जाम हो जाएंगी। गौरतलब है कि 69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण घोटाले का आरोप लगाने वाले अभ्यर्थियों ने इस प्रदर्शन का आह्वान किया है। जिसमें उन्होंने सभी राजनीतिक दलों को भी बुलाया है।

लखनऊ के इको गॉर्डेन में पिछले 72 दिनों से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे 69000 शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों के समर्थन में आजाद समाज पार्टी के मुखिया चंद्रशेखर आजाद ने तीन दिन तक उनके साथ बैठकर धरना दिया है। इस बीच अभ्यर्थियों ने छह सितंबर को लखनऊ में बड़े प्रदर्शन का ऐलान किया है। इन अभ्यर्थियों का कहना है कि उन्होंने सरकार से निवेदन करके देख लिया है, अब वो प्रदर्शन को और बड़ा करने को बाध्य हो गए हैं।

इस बीच चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि योगी सरकार लगातार संवैधानिक अधिकारों का हनन कर रही है। योगी सरकार ने ही पिछड़ा वर्ग आयोग बनाया है। उस आयोग का भी मानना है कि 69000 शिक्षक भर्ती में आरक्षित अभ्यर्थियों के साथ भेदभाव किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार की ईकाईयां ही इस बात को स्वीकार कर रहीं हैं। यह किसी राजनीतिक दल का आंदोलन नहीं है। यह युवाओं के हक की बात है। युवाओं के ही दम पर योगी ने सरकार बनाई थी। लेकिन अब उनको रौंद रही है।

चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि जो हमारा हक छिन रहा है, वो हमारा नहीं है। ओबीसी-एससी छात्रों के संयुक्त बैनर तले होने वाले आंदोलन को समर्थन दे रहा हूं। पूरे प्रदेश से लोग आएंगे। मुख्यमंत्री यह ना सोचें कि हम कमजोर हैं। एक दिन सीएम खुद अभ्यर्थियों से कहेंगे अपना हक लो, हमें माफ कर दो।

उन्होंने कहा कि भीम आर्मी और आजाद समाज पार्टी के कार्यकर्ता इस आंदोलन को समर्थन करेंगे। साथ ही युवाओं के साथ वो हर कदम पर खड़े हैं। उन्होंने कहा कि योगी सरकार सवर्णों को लाभ पहुंचाने के लिए दलितों और पिछड़ों के घरों में आग लगाने को तैयार बैठी है। इसको बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button