उत्तर प्रदेशलखनऊसत्ता-सियासत

300 यूनिट बिजली फ्री, बीए पास छात्र-छात्राओं को 5 लाख रुपये, शिवपाल जीत पाएंगे जनता का दिल?

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) की परिवर्तन रथ यात्रा गुरुवार को कौशांबी पहुंची. जगह-जगह पार्टी के तमाम पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं द्वारा फूल मालाओं से रथ यात्रा का स्वागत किया गया. इस दौरान प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मंझनपुर मुख्यालय के कोडर गांव में जनसभा को भी संबोधित किया. जनसभा को संबोधित करते हुए शिवपाल यादव ने योगी सरकार पर जाकर निशाना साधा. साथ ही उन्होंने अपने चुनावी वादे को दोहराते हुए सरकार बनने पर 300 यूनिट बिजली मुफ्त देने का वादा किया.

प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार के गलत निर्णय से देश भुखमरी की कगार पर पहुंच चुका है. सरकार सिर्फ पूंजीपतियों की तरफ ध्यान दे रही है. उन्होंने कहा कि वह सपा से गठबंधन ही नहीं बल्कि अपनी पार्टी का विलय भी करना चाहते हैं, लेकिन अखिलेश यादव ही तैयार नहीं हैं.

शिवपाल सिंह यादव ने अपना चुनावी वादा दोहराते हुए कहा, यदि प्रदेश में प्रसपा की सरकार बनी तो बीए पास छात्र-छात्राओं को पांच लाख रुपये दिया जाएगा. इसके अलावा 300 यूनिट बिजली भी सभी को मुफ्त दी जाएगी. लखीमपुर खीरी कांड पर शिवपाल यादव ने कहा यदि गृह मंत्री का बेटा दोषी है तो उसे सरकार को जेल भेजना चाहिए. हमारी सरकार में ऐसे सभी दोषियों को जेल भेजा जाता था.

शिवपाल यादव ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के 40 फीसदी महिलाओं को टिकट देने के सवाल के जवाब में कहा, प्रियंका जी ने महिलाओं के बारे में सोचा यह अच्छी बात है. वहीं, उन्होंने अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर की मुलाकात के सवाल पर कहा, अच्छी बात है, आगे भी हो बातें. अखिलेश यादव के बात न करने के सवाल पर उन्होंने कहा, यह तो अखिलेश यादव ही जाने कि वह हमसे क्यों बात नहीं करना चाहते.

सपा के साथ गठबंधन के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता समाजवादी पार्टी से गठबंधन है. इस दौरान उन्होंने छोटी-छोटी पार्टियों को भी साथ लाने की बात कही. इस दौरान उन्होंने विधानसभा चुनाव को लेकर चायल से शशिभूषण द्विवेदी (बालम महाराज) एवं सिराथू से खड़क सिंह पटेल को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button