उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

सीएम ने पांच फरवरी तक हेल्थ वर्कर्स का टीकाकरण पूरा करने के दिए निर्देश

लखनऊः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में आगामी पांच फरवरी तक हेल्थ वर्कर्स का टीकाकरण पूरा किए जाने के निर्देश दिए हैं. लोक भवन में गुरुवार को उच्चाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में सीएम ने कहा कि हेल्थ वर्कर्स के टीकाकरण के बाद आगामी चरण में कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्सीनेशन किया जाए. इसके लिए डाटा तैयार करने के साथ समय से सभी व्यवस्थाएं पूरी कर ली जाएं. सीएम योगी ने कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन अभियान केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स, मानकों के अनुसार ही किया जाए.

अस्पतालों में व्यवस्थाएं रखें चुस्त-दुरुस्त

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के टेस्टिंग कार्य को पूरी क्षमता से करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि सर्विलांस सिस्टम तथा काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग भी ठीक ढंग से सक्रिय रखी जाए. उन्होंने कोविड अस्पतालों की व्यवस्थाओं को प्रभावी बनाए रखने के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड अस्पतालों में दवाओं, मेडिकल उपकरणों तथा ऑक्सीजन की उपलब्धता रखी जाए.

ई-संजीवनी एप का प्रचार प्रसार हो

मुख्यमंत्री ने जिलों में स्थापित इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक किए जाने के अभियान को जारी रखा जाए. ई-संजीवनी एप का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए, ताकि अधिक से अधिक लोगों को इस एप के माध्यम से ऑनलाइन चिकित्सीय परामर्श की सुविधा उपलब्ध कराई जा सके.

पीएम जन औषधि केंद्र स्थापित किये जाएं

बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि प्रधानमंत्री जन औषधि केन्द्र योजना के संचालन में उत्तर प्रदेश का देश में प्रथम स्थान है. इस पर मुख्यमंत्री ने संतोष व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री जन औषधि केन्द्र योजना को विस्तार प्रदान करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि नए औषधि केन्द्रों की स्थापना कराई जाए, जिससे जनता को बेहतर व सुगम ढंग से कम दामों पर दवाएं मिल सकें. बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button