उत्तर प्रदेशकानपुर

सतीश महाना ने कानपुर में बुखार से बिगड़े हालातों का लिया जायजा, अधिकारियों को किया निर्देशित

कानपुर: महानगर में लगातार बुखार से जनता बेहाल है, अस्पतालों के भी बुरे हाल हैं. डेंगू, मलेरिया और कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए अब जमीनी स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. इसी क्रम में रविवार को औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना की अध्यक्षता में मेडिकल कॉलेज सभागार में जनपद में डेंगू, मलेरिया और कोरोना की तीसरी लहर की तैयारियों के सम्बंध में बैठक सम्पन्न हुई.

बैठक में सतीश महाना ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कानपुर नगर को निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त सरकारी अस्पतालों में आने वाले मरीजों को गुणवत्तापूर्णं बेहतर इलाज मिले. उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के संसाधनों की कोई कमी नहीं है. बेहतर प्रबंधन से हम बड़ी से बड़ी महामारी पर कंट्रोल कर सकते हैं, इसके लिए पूरी क्षमता से कार्य करना है और समस्त डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों को कड़ी मेहनत करनी है. उन्होंने कहा कि डेंगू की टेस्टिंग होगी, इसके लिए लोगों को बताया जाए और नगर निगम के स्थापित कंट्रोल रूम नं. 18001805159 पर डेंगू, मलेरिया और वायरल फीवर से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी दी जाती रहे.

सतीश महाना ने कहा कि शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में साफ सफाई होती रहे, इसके लिए कार्य योजना बनाकर अभियान के तौर पर सफाई कराई जाए और लोगों को सफाई के लिए जागरूक भी किया जाता रहे. उन्होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की सम्पूर्ण तैयारी कर ली जाए. इसके लिए मार्च और अप्रैल माह में ऑक्सीजन की कितनी आवश्यकता थी उसका आंकलन मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सरकारी व्यवस्था और समस्त प्राइवेट व्यवस्था के अनुसार कर लें. ऑक्सीजन प्लांट स्थापित होने के लिए जो समस्या आ रही है उनका निस्तारण युद्ध स्तर पर करें ताकि प्लांट जल्दी स्थापित हो सके. हैलट अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि यहां तीसरी लहर के लिए 200 बेड बनाए गए थे, जिसमें वतर्मान में वारयल फीवर के मरीज भर्ती हैं. यहां आने वाले मरीजों को बेहतर इलाज मिल रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button