उत्तर प्रदेशलखनऊ

‘योगी राज में बेकाबू हुई नौकरशाही’, शिवपाल यादव का आरोप- हर मोर्चे पर फेल आदित्यनाथ सरकार

यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) पास आते ही आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति शुरू हो हई है. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने योगी सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने आरोप लगाया कि योगी राज में नौकरशाही बेकाबू हो चुकी है. आज मीडिया से बातचीत में शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने योगी आदित्यनाथ सरकार को हर मोर्चे पर फेल करार दिया. उन्होंने कहा कि यूपी में हत्या, डकैती लूट और रेप जैसी घटनाएं आज आम हो गई हैं.

शिवपाल यादव ने कहा कि सही बात तो ये है कि इस सरकार के शासनकाल में नौकरशाही पूरी तरह बेकाबू (Bureaucracy Out of Control) हो गई है और वह अपनी मनमानी करने लगी है. इसके साथ ही शिवपाल यादव कहा कि उनकी पार्टी चाहती है कि समान विचारधारा वाले दल बीजेपी के खिलाफ एकजुट होकर चुनाव लड़ें. बता दें कि काफी समय से सपा के साथ उनके गठबंधन (SP Alliance) को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं. लेकिन शिवपाल अब तक खुलकर इस मुद्दे पर कुछ भी नहीं बोल रहे थे. लेकिन उनके इस बयान से सपा के साथ गठबंधन की खबरों के हवा मिल गई है.

‘बीजेपी को सत्ता से हटाने के लिए मिले SP का साथ’

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया ने कहा कि उनकी पूरी कोशिश है कि बीजेपी के खिलाफ उनकी इस कोशिश में समाजवादी पार्टी भी शामिल हो. जिससे बीजेपी को सत्ता से हटाने में कामयाबी हासिल की जा सके. वहीं नए कृषि काननों का विरोध जताते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि इस कानून ने देश के किसानों को बर्बाद कर दिया है. शिवपाल ने बताया कि 2022 विधानसभा चुनाव के लिए उनकी पार्टी पूरी तरह से तैयार है. उनकी तरफ से सभी तैयारियां भी पूरी की जा चुकी हैं. इसके साथ ही उन्होंने इशारों ही इशारों में सपा से गठबंधन की बात कह दी.

‘सामाजिक परिवर्तन रथ’ निकालेंगे शिवपाल यादव

बता दें कि शिवपाल यादव यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोरों से कर रहे हैं. 15 सितंबर से वह यूपी में सामाजिक परिवर्तन रथ निकालने जा रहे हैं. उन्होंने बड़े भाई मुलायम सिंह यादव के क्रांति रथ की तर्ज पर सामाजिक परिवर्तन रथ बनाया है. यह रथ यूपी की जनता के बीच जाकर उनकी नब्ज टटोलेगा. शिवपाल के रथ पर उनके बड़े भाई मुलायम सिंह यादव के साथ उनके बेटे आदित्य यादव का चेहरा दिख रहा है. जिसके बाद अब यह सवाल उठ रहा है कि आखिर मलायम सिंह यादव किसके साथ हैं.

इनपुट-भाषा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button