उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

मिशन 2022: यूपी के युवाओं को साधेंगे अनुराग ठाकुर, धर्मेंद्र प्रधान ने प्रभारियों को सौंपी अलग-अलग क्षेत्रों की कमान

यूपी के रण के लिए भाजपा ने मोर्चेबंदी कर दी है। बुधवार शाम पार्टी के राज्य मुख्यालय में हुई महत्वपूर्ण बैठक में तय हो गया कि किस मोर्चे को कौन संभालेगा। चुनावी राजनीति के विशेषज्ञ माने जाने वाले केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के हाथ पूरे चुनाव अभियान की कमान रहेगी। जबकि यूथ आइकॉन माने जाने वाले केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के जिम्मे बेहद अहम काम सौंपा गया है।

अनुराग प्रदेश के युवा वोटरों को पार्टी से जोड़ने की मुहिम की अगुवाई करेंगे। इसके अलावा वे प्रिंट और इलेक्ट्रोनिक मीडिया के साथ ही सोशल मीडिया में चलने वाले चुनावी कैंपेन की कमान भी संभालेंगे। आईटी का जिम्मा भी उन्हीं के कंधों पर रहेगा। भाजपा की नजर एक बार फिर युवा मतदाताओं पर है। खासतौर से वे, जो 18 की दहलीज पार कर पहली बार ईवीएम का बटन छुएंगे।

असल में 2014 से शुरू हुआ भाजपा के विजय अभियान में इन युवा वोटरों की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण रही है। यह युवा सिर्फ वोट ही नहीं देते, माहौल बनाने का काम भी करते हैं। ऐसे में यूपी के सह चुनाव प्रभारी अनुराग ठाकुर को इन्हीं युवा मतदाताओं को रिझाने की जिम्मेदारी दी गई है। असल में अनुराग ठाकुर को जो जिम्मा सौंपा गया है, मोदी मंत्रिमंडल में उन विभागों की कमान भी उन्हीं के पास है। ऐसे में वे युवाओं को बेहतर ढंग से केंद्र और राज्य की मौजूदा और भविष्य की योजनाएं समझा सकेंगे।

सह प्रभारियों को मिली क्षेत्रों की जिम्मेदारी

धर्मेंद्र प्रधान की टीम में सात सह प्रभारी बनाए गए हैं। उनमें से अनुराग ठाकुर के अलावा बाकी छह सह प्रभारियों को पार्टी के संगठनात्मक छह क्षेत्रों का जिम्मा सौंपा गया है। केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे को अवध क्षेत्र, अन्नपूर्णा देवी को कानपुर क्षेत्र, अर्जुनराम मेघवाल को बृज क्षेत्र, राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर को गोरखपुर क्षेत्र और सरोज पांडेय को काशी क्षेत्र तथा हरियाणा के पूर्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु को पश्चिम क्षेत्र का चुनाव प्रभारी बनाया गया है। इन क्षेत्रों में संगठन प्रभारी पार्टी पहले ही नियुक्त कर चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button