उत्तर प्रदेशमहोबा

भाभी से करता था बेइंतहां प्यार, नहीं हुई मुलाकात तो खा लिया जहर

महोबा: अपनी प्रेमिका से न मिल पाने के कारण एक युवक ने जहरीला पदार्थ खा लिया. इतना ही नहीं, जहरीला पदार्थ खाकर वह महोबा जिला अस्पताल पहुंच गया. यहां उसने मीडियाकर्मियों के सामने अपनी प्रेम कहानी बताई. युवक ने बताया कि वह अपनी भाभी से प्रेम करता है. पिछले 15 दिनों से लाख कोशिशों के बाद भी प्रेमिका से नहीं मिल पाने के कारण आहत होकर उसने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया है. जहरीले पदार्थ का सेवन कर जान देने की बात कहने से अस्पताल परिसर में हड़कम्प मच गया. आनन-फानन में अस्पताल प्रशासन ने प्रेमी युवक को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कर उपचार शुरू कर दिया है. फिलहाल युवक की हालत स्थिर बनी हुई है.
प्रेमी हरिदास खुद भी शादीशुदा है, उसका विवाह 2010 में हुआ था. उसके तीन बच्चे भी हैं. युवक ने बताया कि परिजनों और ग्रामीणों द्वारा बेवजह ही उसके और उसकी भाभी के बीच प्रेम संबंध की बात कहकर बदनाम किया गया. भाभी की उसके भाई ने पिटाई भी की. युवक ने बताया कि इन सबसे परेशान होकर उसकी भाभी ने कहा कि वो मर जाना चाहती है. इस पर उसने कहा कि वो ऐसा न करे, नहीं तो वो फंस जाएगा.नहीं हो पाई भाभी मुलाकात तो देवर ने खा लिया जहरयुवक हरिदास ने बताया, प्रेमप्रसंग के आरोपों से परेशान उसके और उसकी भाभी के बीच प्यार हो गया. दोनों ने साथ जीने मरने की कसमें भी खाईं और एक साथ रहने का फैसला भी कर लिया था. फिर क्या था दोनों के परिजनों ने उनको अलग करने के प्रयास शुरू कर दिए.
प्रेमी युवक ने बताया कि उसका भाई भाभी को मायके छोड़ आया. हरिदास ने बताया कि इन सबके बाद भाभी की मां ने धोखे से गांव बुलाकर उसको पिटवाया.कुछ दिन बाद भाभी ने फिर से उसे अपने गांव बुलाया. वहां उसके घर वालों ने उसकी दोबारा पिटाई कर दी.अब भाभी का कोई पता नहीं है. युवक हरिदास ने बताया कि बीते 15 दिनों से लाख कोशिशों के बाद भी वह अपनी भाभी से नहीं मिल पाया है.
इसी से आहत होकर उसने जहरीले पदार्थ का सेवन कर खुद की जान देने का प्रयास किया है. हरिदास ने यह भी बताया कि इससे पहले भी एक बार उसने जान देने की कोशिश की थी. जिला अस्पताल महोबा के EMO ने डॉ वरुण कुमार ने बताया कि हरिदास नामक युवक खुद अस्पताल आया है.उसने जहरीले पदार्थ का सेवन किया है. जिसका इलाज किया जा रहा है.उसकी हालत अभी स्थिर बनी हुई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button