उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरप्रयागराज

बाढ़ का पानी हटने के बाद फ़िर खुल गया लेटे हुए हनुमान जी का मंदिर, पहले ही दिन उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

गंगा और यमुना नदियों में आई ज़बरदस्त बाढ़ की वजह से दो हफ्ते तक बंद रहे प्रयागराज के संगम तट स्थित लेटे हुए हनुमान जी के मंदिर के कपाट आज एक बार फिर से श्रद्धालुओं के दर्शन पूजन के लिए खोल दिए गए हैं. बाढ़ का पानी हटने के बाद मंदिर कैंपस की सफाई की गई और थोड़े बहुत जमा पानी व गंदगी को निकाला गया. इसके बाद मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए.

तकरीबन दो हफ्ते बाद मंदिर खुलने के पहले ही दिन आज श्रद्धालुओं की भारी भीड़ नज़र आई. इस मौके पर मौजूद श्रद्धालु भक्ति भाव में डूबे हुए नजर आए. हालांकि मंदिर के गर्भ गृह को अभी नहीं खोला गया है और श्रद्धालुओं को गर्भ गृह के बाहर से ही दर्शन पूजन की इजाजत दी गई है. गर्भ गृह में अभी थोड़ा पानी भरा हुआ है इसलिए उस पानी को निकालने और साफ-सफाई के बाद बजरंगबली का विशेष श्रृंगार व आरती करके ही गर्भ गृह में दर्शन पूजन शुरू किया जाएगा.

दो हफ्ते पहले पानी ज़्यादा बढ़ने पर मंदिर को पूरी तरह बंद कर दिया गया था

गौरतलब है कि प्रयागराज में गंगा और यमुना दोनों ही नदियों का जलस्तर काफी बढ़ गया था. दोनों नदियां तकरीबन एक हफ्ते तक खतरे के निशान से ऊपर बह रही थीं. नदियों में आई ज़बरदस्त बाढ़ ने संगम स्थित लेटे हुए हनुमान मंदिर को अपनी आगोश में ले लिया था. दो हफ्ते पहले पानी ज़्यादा बढ़ने पर मंदिर को पूरी तरह बंद कर दिया गया था. गंगा और यमुना के खतरे के निशान पार करने के बाद मंदिर का की पूरी बिल्डिंग ही बाढ़ के पानी में समा गई थी और परिसर दूर-दूर तक कहीं नजर नहीं आ रहा था. मंदिर कैंपस में तकरीबन 25 फीट ऊंचाई तक पानी भर गया था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button