उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की हालत गंभीर, वेंटीलेटर पर शिफ्ट

लखनऊ: यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह बीते कई दिनों से बीमार चल रहे हैं. हालत बिगड़ने पर तीन जुलाई को उनको लोहिया संस्थान में भर्ती कराया गया था. जिसके बाद 4 जुलाई को उनको एसजीपीजीआई शिफ्ट किया गया था. बुधवार को उनको सांस लेने में ज्यादा दिक्कत होने पर वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया. उनका इलाज संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में बीते कई दिनों से चल रहा है. कल्याण सिंह को आईसीयू में भर्ती कराया गया है. संस्थान के डॉक्टरों के मुताबिक, बीते शनिवार से पूर्व सीएम की हालत चिंताजनक बनी हुई है.
उनको चैतन्यता की समस्या थी. लोहिया संस्थान में जांच के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री में अनियंत्रित ब्लड शुगर, एक्यूट बैक्टीरियल इंफेक्शन की शिकायत पाई गई थी. उनके शरीर में सूजन और संक्रमण मिला था. मस्तिष्क के सीटी स्कैन में खून का थक्का भी पाया गया. इसके अलावा माइनर हार्ट अटैक भी लक्षण पाए गए थे. इसके बाद उन्हें लोहिया संस्थान से एसजीपीजीआई शिफ्ट किया गया था. एसजीपीजीआई में क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग के आईसीयू में उनका इलाज चल रहा है.
सोमवार की रात उनकी तबीयत अधिक बिगड़ने के बाद से परिवार के लोगों को भी अस्पताल बुला लिया गया था. इसके बाद मंगलवार को कई जांचों के बाद डाक्टरों ने हालत नियंत्रित होने की बात कही है. अब फिर उनकी स्थिति गंभीर बताई जा रही है. बीते दिनों भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सीएम योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह समेत कई नेताओं ने मुलाकात कर उनका हालचाल लिया था. गत शनिवार से उन्हें सांस लेने में दिक्कत हुई. ऐसे में नॉर्मल ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया. मंगलवार को उन्हें देखने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी पहुंची थी.
उनके इलाज के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों की टीम बनाई गई है. जिसमें प्रो बनानी पोद्दार, प्रो अफजल अहमद, प्रो नारायण प्रसाद, प्रो सुनील प्रधान, प्रो वीके पालीवाल, प्रो ईश भाटिया, प्रो अमित केसरी हैं. उनकी निगरानी में संस्थान के निदेशक हेपेटोलॉजिस्ट प्रो आरके धीमान, सीएमएस एवं इंडो सर्जन प्रो गौरव अग्रवाल भी लगे हैं.
एसजीपीजीआई के निदेशक डॉ आरके धीमान के मुताबिक, पूर्व मुख्यमंत्री को सांस लेने में कठिनाई हो रही है. पहले उन्हें हाई प्रेशर ऑक्सीजन मास्क (NIV) पर रखा गया है. वरिष्ठ चिकित्सकों की टीम उनके उपचार में लगी है. इंफेक्शन कंट्रोल के लिए एंटीबायोटिक व एन्टीफंगल दवाइयों का कोर्स शुरू कर दिया गया है. मगर, रात में तबीयत और खराब हो गई. ऐसे में वेंटीलेटर पर शिफ्ट किया गया. अभी हालत नियंत्रण में है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button