उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरसुलतानपुर

पिता की मौत के बाद मासूम बेटे ने भी तोड़ा दम, पत्नी व दो बेटियां अस्पताल में लड़ रही जिंदगी की जंग

भूपेंद्र सिंह


  • पिता व मासूम को बेटे को एक साथ दी गयी मुखाग्नि

सुलतानपुर। टीयूबी गाड़ी से सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुए बुलेट सवार दम्पति व बच्चों में पिता की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी तो वही गंभीर रूप से घायल बेटे ने भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जयसिंहपुर कोतवाली क्षेत्र के टांडा-बांदा नेशनल हाइवे पर सोमवार की शाम लगभग 3:30 बजे कोतवाली क्षेत्र के मुइली तिवारीपुर निवासी बुलेट चालक वीरेंद्र यादव (45) अपनी पत्नी प्रियंका, पुत्री परी(14) वर्ष, बेटा प्रतीक (10) वर्ष, गुड़िया (7) वर्ष के साथ बुलेट बाइक पर सवार होकर अम्बेडकरनगर जनपद के नरसिंहपुर गांव स्थित ससुराल से घर आ रहा था।

इसी बीच पीढ़ी टोल प्लाजा के पास पहुंचते ही तेज रफ्तार अनियंत्रित टीयूवी एसयूवी कार ने सभी को रौद दिया था। जिसमें वीरेंद्र यादव (45) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। जबकि अन्य घायलों को जिला चिकित्सालय से इलाज के लिए लखनऊ ट्रामा रेफर कर दिया गया था।जिसमे गंभीर रूप से घायल मृतक के बेटे प्रतीक (10) वर्ष ने भी दम तोड़ दिया। वही उसकी पत्नी प्रियंका (42) वर्ष व उसकी बड़ी बेटी परी (14)वर्ष जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। जबकि उसकी छोटी बेटी गुड़िया (7) वर्ष की हालत खतरे से बाहर है। इस संबंध में जयसिंहपुर कोतवाल भूपेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि पीड़ित पक्ष की तहरीर पर वाहन को कब्जे में लेकर आरोपित चालक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर आरोपी चालक को जेल भेज दिया गया है।

पिता व बेटे को एक साथ दी मुखाग्नि, घर पहुंचा शव, मचा कोहराम

सड़क हादसे में मृतक पिता व मासूम बेटे का शव एक साथ जब शाम साढ़े छः बजे घर पहुंचा तो घर पहुंचते ही परिजनों व नात रिश्तेदारों व मृतक की बूढ़ी मां में कोहराम मच गया। ढाढ़स बढाने वालो में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष ओ0पी0 चौधरी, जिला पंचायत सदस्य व ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अशोक वर्मा समेत अन्य लोगो का जमावड़ा लगा रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button