उत्तर प्रदेशकुशीनगर

‘पहले अब्बा जान कहने वाले हजम कर लेते थे गरीबों का राशन’, कुशीनगर में अखिलेश सरकार पर सीएम योगी ने बोला हमला

यूपी विधानसभा चुनाव पास आते ही राज्य के विकास कार्यों में भी तेजी आ गई है. सीएम योगी ने आज संत कबीरनगर और कुशीनगर में कई विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया. सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi)  ने आज कुशीनगर में राजकीय मेडिकल कॉलेज और अन्य विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया. इस मौके पर उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए अखिलेश सरकार पर जमकर हमला बोला और गरीबों को मिलने वाले राशन का जिक्इर किया.

सीएम योगी ने अपने संबोधन में कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में तुष्टिकरण की राजनीति के लिए कोई जगह नहीं है.आज गरीबों को राशन (Ration) मिल रहा है. इसके साथ ही उन्होंने सवाल किया कि क्या ये राशन 2017 के पहले भी मिलता था?. सीएम ने कहा कि 2017 के पहले राशन नहीं मिलता क्योंकि तब अब्बा जान कहने वाले ही राशन हज़म कर जाते थे. उन्होंने कहा कि आज इन गरीबों का राशन कोई हज़म नहीं कर सकता. अगर कोई गरीबों का राशन हज़म करेगा तो वो जेल जाएगा.

‘यूपी में कंट्रोल में कोरोना संक्रमण’

यूपी में कोरोना संक्रमण के हालात का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि राज्य में कोरोना नियंत्रण में है. इसके साथ ही उन्होंने उन सभी कोरोना वॉरियर्स का अभिनंदन किया, जिन्होंने कोरोना के दौरान जनता की सेवा की. सीएम योगी ने कहा कि अगर कोरोना सपा, बसपा और कांग्रेस के समय में आया होता तो जैसे आज केरल और महाराष्ट्र में स्थिति है वैसे ही स्थिति यूपी में भी होती.

कुशीनगर के साथ ही सीएम योगी ने संतकबीर नगर में भी विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया. सीएम ने यहां पर 126 करोड़ की लागत से बनी ज़िला कारागार के लोकार्पण के साथ ही 119 करोड़ की अन्य विकास परियोजनाओं का भी लोकार्पण किया. सीएम ने कहा कि आज कुशीनगर में लगभग 400 करोड़ रुपए से ज़्यादा की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया गया है.

‘यूपी में भी होते कोरोना के बदतर हालात’

सीएम योगी ने आज सपा सरकार पर हमला बोलते हुए उनके कामकाज पर सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि बीजेपी राज में आज गरीबों को राशन मिल रहा है. जब कि सपा सरकार में अब्बा जान कहने वाले खुद ही गरीबों का राशन हजम कर लेते थे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर राज्य में आज सपा, बीएसपी या कांग्रेस की सरकार होती तो कोरोना के वहीं हालात होते जो आज केरल और महाराष्ट्र में देखने को मिल रहे हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button