अमेठीउत्तर प्रदेश

चुनाव से पहले एक बार फिर से जगा बीएसपी का ब्राम्हण एवं दलित प्रेम।

उत्तर प्रदेश में सन 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं । ऐसे में लगभग सभी क्षेत्रीय पार्टियों के अंदर सरगर्मियां शुरू हो गई है । इसी के क्रम में बहुजन समाजवादी पार्टी के महासचिव सतीश चंद्र मिश्र बीएसपी की मशाल लेकर ब्राह्मण एवं दलित प्रेम का दीपक जलाकर प्रतिदिन कई जिलों का दौरा कर रहे हैं । बहुजन समाजवादी पार्टी को जनता का सबसे बड़ा हितैषी बता रहे हैं। ऐसे में आज अमेठी जनपद मुख्यालय गौरीगंज स्थित शुक्ला लान में पहुंचे बीएसपी महासचिव सतीश चंद्र मिश्र का पार्टी के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं के द्वारा कर्मकांडी ब्राह्मण पंडित को बुलवाकर शंख ध्वनि करते हुए माथे पर चंदन लगाया गया और फूल मालाओं से भव्य स्वागत किया गया। ऐसे में कार्यकर्ताओं ने अपने महासचिव को स्वागत में बीएसपी का चुनाव चिन्ह हाथी भगवान परशुराम की प्रतिमा और तीर धनुष को भेंट में दिया। इसके बाद उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए सतीश चंद्र मिश्रा ने बीजेपी कि वर्तमान उत्तर प्रदेश सरकार को घोर ब्राम्हण विरोधी सरकार बताया है उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों की गाड़ी पलटती है और मारे जाते हैं । इस सरकार में पुलिस को यह आदेश था कि रुको नाम पूछो अगर ब्राम्हण है तो गोली मार दो । इसी तरह से लखनऊ में 3 लोगों को मार दिया गया प्रतापगढ़ झांसी बुंदेलखंड सहित तमाम जिले इसके उदाहरण है । जिस तरह से पूर्ववर्ती सरकारों में दलित समाज को दबा कुचला गया इसी तरह इस सरकार में ब्राह्मणों को दबाया और कुचला गया । इस सरकार में पिछले 1 साल से किसान अपनी जमीन बचाने के लिए लड़ाई लड़ रहा है और सरकार के द्वारा उन पर लाठियां बरसाई जा रही है और उन पर पानी की बौछारें मारी जा रही है। देश और प्रदेश में जितने भी सरकारी विभाग हैं सबको बेचने का कार्य यह बीजेपी कर रही है । सिर्फ दो-तीन उद्योगपति जो इन लोगों को चुनाव लड़ने के लिए चंदा देते हैं सब उन्हीं के हाथों बेच दिया । बढ़ती हुई महंगाई को लेकर देश और प्रदेश सरकार को जमकर आड़े हाथों लिया । हर 2 घंटे में उत्तर प्रदेश में एक महिला का रेप हो रहा है । पूरे देश में बेरोजगारी अपने चरम पर है पहले कहते थे कि पकौड़ा बेंचिये। अब तो बेरोजगार पकौड़ा भी नहीं बेच सकता है क्योंकि तेल बहुत महंगा हो गया है। समाजवादी पार्टी ने भी अपनी सरकार में ब्राह्मण समाज के लोगों को बेइज्जत करने कि कोई कोर कसर नहीं छोड़ी । ऐसे रामराज की कल्पना शायद किसी ने की हो जहां पर न बेटियां सुरक्षित है ना किसान सुरक्षित है और ना ही नौजवान सुरक्षित है हर आदमी दुखी है । इन्होंने 2 करोड़ लोगों को नौकरी देने का वादा किया था । लेकिन उसका उल्टा ही रहा इन्होंने 02 करोड़ लोगों को नौकरी देने के बजाय छीन ली। पिछले 7 दिनों में जिस तरह से ब्राह्मण समाज हम लोगों के साथ जुड़ रहा है । उससे भारतीय जनता पार्टी में घबराहट पैदा हो गई है लखनऊ से लेकर दिल्ली तक सिर्फ इसी मुद्दे पर बात चल रही है । अब क्या किया जाए खुशी दुबे की बात करते हुए सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि जिस तरह से साडे 16 साल की बच्ची को इन्होंने जेल में डाल रखा है उसका बदला लेने का समय अब आ गया है। मीडिया से बात करते हुए सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि हम जो ब्राह्मण समाज का सम्मेलन कर रहे हैं इसी से डर कर बीजेपी वाले नई दिल्ली में बैठक कर रहे हैं । उनको अपनी जमीन की खिसकती हुई दिख रही है। बीजेपी यह सोच रही है अब कौन सा झूठ बोला जाए कैसे बरगलाया जाए उत्तर प्रदेश की जनता और ब्राह्मण समाज को बैठक करके इस पर मंथन किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में बीजेपी की हालत बहुत खराब है अब प्रदेश से बाहर जाकर उनको मंथन करने की जरूरत पड़ रही है। यहां की सरकार जाने वाली है यह बिल्कुल तय है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button