उत्तर प्रदेशवाराणसी

ओमप्रकाश राजभर बोले-कुंभ में हुआ घोटाला, जांच कराएं पीएम मोदी, अगर योगी जेल न गए तो राजनीति छोड़ दूंगा

वाराणसी। यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने सीएम योगी पर बुधवार को बड़ा हमला बोला। उन्होंने प्रयागराज कुंभ पर सीएजी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए पीएम मोदी से इसकी जांच कराने की मांग की। उन्होंने यहां तक कह दिया कि जांच के बाद अगर योगी जेल नहीं गए तो राजनीति छोड़ दूंगा।

बनारस में मीडिया से बात करते हुए ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि पीएम मोदी से कहा कि जिस तरह से यूपीए को घेरा था उसी तरह से कुंभ पर सीएजी रिपोर्ट के मामले की जांच सीबीआई या सुप्रीम कोर्ट के सीटिंग जज से करा दीजिये। दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि आरएसएस में झूठ बोलने की ट्रेनिंग दी जाती है। उन्होंने पीएम मोदी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि चाय बेचते बेचते देश बेचने लगे। उनके नेता लोग कुंभ का मेला लगाते लगाते रुपया लुटने लगे। कुंभ में मोटरसाइकिल और मोपेड पर मिट्टी की ढुलाई करा दी गई। कैग की रिपोर्ट में बाइक और ऑटो से मिट्टी ढोने की बात कही गई है। ऐसे में कॉमन वेल्थ से बड़ा घोटाला कुंभ में हुआ है।

बेटी बचाओ नारा दिया किससे बचाओ नहीं बताया

राजभर ने कहा कि बीजेपी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा दिया लेकिन यह नहीं बताया कि बेटी किससे बचाओ। असल में बेटी भाजपा नेताओं से ही बचानी है। सेंगर और स्वामी चिन्मयानंद का नाम लेते हुए राजभर ने सांसद अतुल राय की रेप पीड़िता की मौत के लिए भी भाजपा को दोषी करार दिया। राजभर ने कहा कि अगर भाजपा के शासन में उस बेटी को न्याय मिल जाता तो वह जान नहीं देती।

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के बारे में उन्होंने कहा कि उनकी कलश यात्रा निकालना तो ठीक है, लेकिन कल्याण सिंह की लाश पर राजनीति न करें बीजेपी। बीजेपी लाश पर राजनीति करती है। पुलवामा में 44 जवान शहीद हुए, लेकिन आज तक सीबीआई जांच नहीं हुई। उन्होंने कहा कि कल्याण सिंह के नाम पर सड़कों का नाम रखा जाना ठीक है, लेकिन अगर नाम बदले जाने से ही विकास हो जाए तो 24 करोड़ वाली आबादी के उत्तर प्रदेश का नाम अंबानी कर दें। ऐसे में सभी मालामाल हो जाएंगे। शिवपाल यादव पर उन्होंने कहा कि हम दोनों लोग जहां जाएंगे एक साथ जाएंगे।

भागीदारी संकल्प मोर्चा के लिए मांगी है 100 सीट

ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि सपा और बसपा से भागीदारी संकल्प मोर्चे के लिये 100 सीट मांगी है, हमने गठबंधन के लिये किसी पार्टी से संपर्क नही किया है, हम सभी दल के नेताओ से मिलते रहते इसको गठबंधन से जोड़ कर नही देखना चाहिये। 27 अक्टूबर को पता खुलेगा। पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर को नजर बन्द करना गलत प्रदेश में बहुत ईमानदार आईएएस आईपीएस अधिकारी प्रदेश की उन्नती के लिये काम करना चाहते हैं। मैं ऐसे अधिकारियों को अपनी पार्टी में आने के लिए खुला निमंत्रण देता हूं। उन्होंने उज्ज्वला योजना पर कहा कि यह लूट योजना है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button