उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

ओमप्रकाश राजभर ने कहा- योगी को मठ-मंदिर में रहना चाहिए,वह वहीं अच्छे लगते हैं

लखनऊ: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें मठ-मंदिर में रहना चाहिए। राजभर ने बलिया जिले के रसड़ा स्थित पार्टी कार्यालय पर कहा कि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले उनकी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) से गठबंधन इसलिए किया था क्योंकि पार्टी के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उनसे बीजेपी की सरकार बनने पर केशव प्रसाद मौर्य को मुख्यमंत्री बनाने का वादा किया था।
‘योगी नहीं, अखिलेश और मायावती हैं नेता’
ओमप्रकाश राजभर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा ‘योगी साधु बाबा हैं। उन्हें मठ-मंदिर में रहना चाहिए। वह वहीं अच्छे लगते हैं। दरअसल, योगी आदित्यनाथ कोई नेता नहीं हैं। नेता तो समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती हैं।’ राजभर ने कहा कि मायावती और अखिलेश के मुख्यमंत्री काल में विकास कार्य धरातल पर नजर आते थे जबकि योगी आदित्यनाथ का कोई भी काम जमीन पर दिखाई नहीं देता।
‘सिर्फ बनारस में 2 सीटों पर लड़ाई रहेगी’
बता दें कि इससे पहले राजभर ने हाल ही में दावा किया था कि अगर सपा केवल छोटे दलों से समझौता कर ले, तो आगामी विधानसभा चुनाव में पूर्वी यूपी में बीजेपी को एक भी सीट नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा, ‘बीजेपी की सरकार से पूरे राज्य की जनता में नाराजगी है। यदि सपा आगे बढ़कर क्षेत्रीय पार्टियों और छोटी पार्टियों से समझौता कर ले तो चुनाव परिणाम बदल जाएगा। सपा केवल हमसे (SBSP) समझौता कर ले तो मऊ, बलिया, गाजीपुर, आजमगढ़, जौनपुर, आंबेडकर नगर आदि जिलों में बीजेपी को एक भी सीट नहीं मिलेगी। सिर्फ बनारस में 2 सीट पर लड़ाई रहेगी।’
जहूराबाद सीट से विधायक हैं राजभर
बता दें कि वाराणसी जिले के मूल निवासी राजभर गाजीपुर जिले की जहूराबाद विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं और उन्होंने अपनी पार्टी का मुख्यालय बलिया जिले के रसड़ा में बनाया है। वह जिस राजभर बिरादरी से आते हैं, उसकी पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों में अच्छी संख्या है। SBSP का दावा है कि बहराइच से बलिया तक पूर्वी उत्तर प्रदेश में इस समुदाय की आबादी 12 फीसदी है। 403 सदस्यों वाली उत्तर प्रदेश विधानसभा में पूर्वी उत्तर प्रदेश से लगभग 150 सीटें हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button