उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

उप्र में हाई लॉस फीडर्स की सतत निगरानी करेंगे विजिलेंस थाने

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि प्रत्येक जिले के हाई लॉस फीडर्स की सतत निगरानी का जिम्मा विजिलेंस थानों के पास होगा। ऊर्जा मंत्री मंगलवार को यूपीपीसीएल की विजिलेंस विंग की समीक्षा की। उन्होंने कहा, “बिजली चोरी पर पूर्ण अंकुश लगाकर उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली की सुलभता ही हमारा लक्ष्य है। इसमें पूरी तरह से जीरो टॉलरेंस पर सरकार काम कर रही है। लापरवाही पर सबकी जवाबदेही सुनिश्चित की जाएगी। प्रत्येक जिले के हाई लॉस फीडर्स की सतत निगरानी का जिम्मा विजिलेंस थानों के पास होगा।”

ऊर्जा मंत्री ने शक्ति भवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जनपदों के बिजली थानों के थानाध्यक्ष व संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने चैयरमैन यूपीपीसीएल व डीजी विजिलेंस को हाई लॉस फीडर्स के हिसाब से थानों को लक्ष्य दिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी हर महीने इसकी रिपोर्ट दें। शर्मा ने कहा कि नियमित बिल चुकाने वाले उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली देने का लक्ष्य तभी पूरा हो सकता है, जब बिजली चोरी पर पूर्ण अंकुश लगे।

आम उपभोक्ता भी यही चाहते हैं कि उन्हें सस्ती बिजली सुलभ तरीके से मिले। उन्होंने कहा कि विजिलेंस विंग और थानों को लोगों को इस बात के लिए प्रेरित करना होगा कि बिजली चोरी रुकेगी तो आम लोगों का ही लाभ होगा। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि अधिकारियों को अपने आचरण व व्यवहार में भी बड़े बदलाव करने होंगे। किसी भी ईमानदार उपभोक्ता का उत्पीड़न न हो, अधिकारी यह सुनिश्चित करें। कहीं भी ऐसी शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई भी होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button