अयोध्याउत्तर प्रदेश

अयोध्या पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, सीएम योगी ने किया स्वागत

अयोध्या: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपनी पत्नी सविता कोविंद के साथ रविवार को रामनगरी अयोध्या पहुंचे. रेलवे स्टेशन पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रपति का स्वागत किया. अयोध्या पहुंचने पर सीएम योगी ने अंग वस्त्र भेंट कर राज्यपाल रामनाथ कोविंद का राम नगरी में भव्य स्वागत किया. जिसके बाद राज्यपाल ने स्वागत कार्यक्रम स्थल पर मौजूद सभी गणमान्य व्यक्तियों से मुलाकात की.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अयोध्या जंक्शन रेलवे स्टेशन पर हो रहे निर्माण कार्य को लेकर जानकारी भी ली. अयोध्या जंक्शन रेलवे स्टेशन से बाहर निकलने पर स्टेशन परिसर के बाहर लगे सांस्कृतिक मंच पर लिल्ली घोड़ी नृत्य प्रदर्शन के जरिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का स्वागत किया गया. स्वागत की अगली कड़ी में बिरला धर्मशाला परिसर के सामने लगे मंच से सांस्कृतिक गीत के माध्यम से राष्ट्रपति महोदय का स्वागत किया गया. स्वागत की कड़ी में राज्य सदन के सामने फरवाही लोक नृत्य के जरिए राज्यपाल का स्वागत किया गया. स्वागत की कड़ी में तुलसी उद्यान के सामने मयूर नृत्य के जरिए राष्ट्रपति महोदय का स्वागत किया गया. जिसके बाद राष्ट्रपति का काफिला मुख्य कार्यक्रम स्थल राम कथा पार्क के लिए रवाना हुआ. जहां राष्ट्रपति रामायण कॉन्क्लेव का शुभारंभ करेंगे.

अयोध्या जंक्शन रेलवे स्टेशन से लेकर मुख्य कार्यक्रम स्थल राम कथा पार्क के बीच करीब 15 स्थानों पर राष्ट्रपति का स्वागत किया जाएगा. जिनमें से 8 स्थानों पर भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति की जाएगी. आज का यह कार्यक्रम इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि आजाद भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा मौका आया है जब कोई राष्ट्रपति राम नगरी अयोध्या आ रहे हैं और राम लला का दर्शन कर रहे हैं.

रामायण कॉन्क्लेव परिसर को दुल्हन की तरह सजाया गया

मुख्य कार्यक्रम स्थल राम कथा पार्क में रामायण कॉन्क्लेव को लेकर तैयारियां पूरी की गई है. पूरे परिसर को बेहद खूबसूरती से सजाया गया है. इस पूरे परिसर में रामायण काल से जुड़ी कथाओं का प्रदर्शन किया गया है. जिसमें महर्षि वाल्मीकि को भी दर्शाया गया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस परिसर में पहुंचकर रामायण कॉन्क्लेव का उद्घाटन करेंगे. इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है.

सुरक्षा की दृष्टि से पूरी अयोध्या को सील कर दिया गया है. अयोध्या में सिर्फ उन्हीं लोगों को प्रवेश की अनुमति दी जा रही है जिनके पास अयोध्या में रहने का आधार कार्ड है. मुख्य मार्ग पर लोगों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है. रूट डायवर्जन के हिसाब से मुख्य मार्ग से हटकर अलग मार्गों से लोगों को उनके घरों की तरफ रवाना किया जा रहा है. जिला प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि लोग अपने घरों में रहे बहुत आवश्यकता पड़ने पर ही बाहर निकले. मीडिया को भी इस पूरे कार्यक्रम से दूर रखा गया है. कोविड प्रोटोकॉल के चलते मुख्य कार्यक्रम स्थल पर मीडिया कर्मियों को जाने की अनुमति नहीं है. सूचना विभाग अपने माध्यम से सभी सूचनाएं तस्वीरें और वीडियो उपलब्ध कराएगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button