खेल-खिलाड़ीताज़ा ख़बर

IND vs ENG: टीम इंडिया पहले ही दिन घुटनों पर आई, 78 रन पर समेटने के बाद इंग्लैंड ने कसा शिकंजा

भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच तीसरे टेस्ट का पहला दिन पूरी तरह से इंग्लिश टीम के नाम रहा. जेम्स एंडरसन (James Anderson) के नेतृत्व में इंग्लैंड ने भारत को पहली पारी में 78 रन के मामूली स्कोर पर निपटा दिया. फिर हसीब हमीद और रॉरी बर्न्स की सलामी जोड़ी के दम पर दिन का खेल खत्म होने तक बिना विकेट खोए 120 रन बनाए. इंग्लैंड पहली पारी के आधार पर 42 रन की बढ़त ले चुका है.दिन का खेल खत्म होने पर हमीद 130 गेंद में 11 चौकों की मदद से 60 रन बनाकर खेल रहे थे जबकि बर्न्स ने 125 गेंद में 52 रन की पारी के दौरान पांच चौके और एक छक्का जड़ा है. हेडिंग्ले में विराट कोहली और भारत के लिए टॉस जीतने के अलावा पहले दिन कुछ भी सही नहीं रहा.

लॉर्ड्स टेस्ट की हार के बाद इंग्लैंड ने जोरदार वापसी की और पहले ही दिन अपनी स्थिति मजबूत कर ली. उसने भारत को टेस्ट मैच के पहले दिन 34 साल के सबसे छोटे स्कोर पर निपटा दिया. इससे पहले आखिरी बार 1987 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ भारतीय टीम दिल्ली टेस्ट के पहले दिन 75 रन पर निपट गई थी. पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया जेम्स एंडरसन के पहले स्पैल के झटकों से उबर नहीं पाई और नौ महीनों में दूसरी बार 100 से कम रन पर सिमट गई. दिसंबर 2020 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम 36 रन पर निपट गई थी.

भारत के 78 रन के स्कोर में रोहित शर्मा (19) और अजिंक्य रहाणे (18) ही दोहरे अंक में पहुंच पाए. इंग्लैंड के लिए जेम्स एंडरसन और क्रेग ऑवर्टन ने तीन-तीन जबकि ऑली रॉबिनसन और सैम करन ने दो-दो विकेट चटकाए.

भारतीय पारी में केवल 6 चौके लगे

शानदार स्विंग का नजारा पेश करते हुए एंडरसन (छह रन पर तीन विकेट) ने मैच के पहले घंटे में ही सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल (0), चेतेश्वर पुजारा (1) और कप्तान विराट कोहली (7) को पवेलियन भेज दिया. भारतीय बल्लेबाजों को ऑफ साइड से बाहर की गेंद से छेड़छाड़ का खामियाजा भुगतना पड़ा और पहले पांच बल्लेबाज विकेटकीपर जोस बटलर को कैच देकर आउट हुए. भारत ने अपने अंतिम छह विकेट सिर्फ 22 रन जोड़कर गंवाए जिससे लंच के बाद टीम 40.4 ओवर में ही सिमट गई. इंग्लैंड के गेंदबाजों के दबदबे का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि भारतीय पारी में सिर्फ छह चौके लगे.

रोहित और रहाणे ने इसके बाद पारी को संभाला. दोनों ने बेहद सतर्कता के साथ बल्लेबाजी की और 35 रन जोड़े. लेकिन लंच से ठीक पहले रहाणे आउट हो गए. भारत ने लंच के बाद चौथे ओवर में ही ऋषभ पंत (2) का विकेट गंवा दिया. भारत ने 67 रन के स्कोर पर रोहित, मोहम्मद शमी (0), रवींद्र जडेजा (4) और जसप्रीत बुमराह के विकेट गंवाए जिससे टीम का स्कोर 67 रन पर पांच विकेट से 67 रन पर नौ विकेट हो गया. क्रेग ऑवर्टन ने मोहम्मद सिराज (03) को कप्तान जो रूट के हाथों कैच कराके भारतीय पारी का अंत किया.

सीरीज में पहली बार इंग्लैंड को 100 प्लस की ओपनिंग

तेज गेंदबाजों के भारत को सस्ते में ढेर करने के बाद हमीद और बर्न्स की जोड़ी ने इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलाई. हमीद अच्छी लय में दिखे. साल 2016 के बाद पहली बार टेस्ट पारी का आगाज कर रहे हमीद ने इशांत शर्मा पर चौके से खाता खोला और फिर जसप्रीत बुमराह पर भी चौका जड़ा. बर्न्स ने मोहम्मद शमी पर चौका जड़ा जबकि हमीद ने मोहम्मद सिराज पर चौके के साथ 21वें ओवर में इंग्लैंड के रनों का अर्धशतक पूरा किया. बर्न्स ने सिराज पर छक्के और फिर एक रन के साथ स्कोर बराबर किया. हमीद ने बुमराह पर चौके के साथ 110 गेंद अर्धशतक पूरा किया. बर्न्स ने भी बुमराह पर चौके के साथ 123 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. मौजूदा श्रृंखला में इंग्लैंड की सलामी जोड़ी की यह पहली शतकीय साझेदारी है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button