खेल-खिलाड़ी

IND vs ENG: जो रूट के निशाने पर 91 साल पुराना वर्ल्ड रिकॉर्ड, ब्रैडमैन से क्लाइव लॉयड तक सब छूटेंगे पीछे

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) रेड हॉट फॉर्म में हैं. मतलब अभी उनके बल्ले से रन निकल नहीं बल्कि बरस रहे हैं. भारतीय फैंस के लिए दुख की बात ये है कि ऐसा टीम इंडिया के खिलाफ हो रहा है. रूट अकेले ही टीम इंडिया की राह का रोड़ा बनते दिख रहे हैं. 5 टेस्ट की सीरीज में नॉटिंघम से हेडिंग्ले तक के सफर में वो एक नहीं बल्कि 3 शतक जड़ चुके हैं. रूट के शतकों का ये खेल भारतीय टीम को महंगा पड़ रहा है. लॉर्ड्स की लड़ाई तो उसने जीत ली पर हेडिंग्ले में मैदान मारना उसके लिए मुश्किल दिख रहा है. रूट के बेजोड़ फॉर्म से 91 साल पहले बनाया सर डॉन ब्रैडमैन का एक बड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड अब खतरे में दिख रहा है. वहीं भारतीय गेंदबाजों के उनके आगे स्ट्रगल के सवाल पर मोहम्मद शमी ने तगड़ा जवाब दिया है.

जो रूट ने हेडिंग्ले में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 165 गेंदों पर 121 रन की शानदार पारी खेली. इंग्लिश कप्तान की इस पारी में 14 चौके शामिल रहे. ये इस सीरीज में रूट के बल्ले से निकला तीसरा शतक है. इन 3 शतकों के साथ जो रूट ने 3 टेस्ट की अब तक खेली 5 पारियों में 126.57 की बेजोड़ औसत के साथ 507 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से एक अर्धशतक भी निकला था. अभी टेस्ट सीरीज अपने बीच सफर में है. मसलन रूट को 5 पारियां भारत के खिलाफ और खेलने को मिल सकती है. और, अगर उनका खेल ऐसे ही चलता रहा तो फिर 1930 में बनाया सर डॉन ब्रैडमैन का रिकॉर्ड वो तोड़ सकते हैं.

रूट के पास ब्रैडमैन के 974 रनों का रिकॉर्ड तोड़ने का मौका

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन ने किसी एक टीम के खिलाफ एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था. उन्होंने तब इंग्लैंड के खिलाफ ही 7 पारियों में 974 रन बनाए थे. 1974 में वेस्ट इंडीज के धाकड़ बल्लेबाज क्लाइव लॉयड भारत के ही खिलाफ ब्रैडमैन के रिकॉर्ड को तोड़ने के बेहद करीब पहुंचे थे. लेकिन वो तोड़ नहीं पाए थे. लॉयड ने तब 14 पारियों में 903 रन बनाए थे. लेकिन, रूट के पास मौका और दस्तूर दोनों हैं. साल 2021 में भारत के खिलाफ अब तक खेली 13 पारियों में रूट 875 रन बना चुके हैं. यानी उन्हें ब्रैडमैन का 91 साल पहले बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ने के लिए सिर्फ 100 रन और चाहिए, जिसे बनाने के लिए उनके पास 5 पारियां हैं. और रूट के फॉर्म को देखते हुए ये मुश्किल भी नहीं दिख रहा.

शमी ने कहा- हमारी गेंदबाजी में खोट नहीं, वो तो रूट…

भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने रूट की बल्लेबाजी पर बयान देते हुए कहा, ” हर किसी को ये लग रहा होगा कि भारतीय गेंदबाज रूट के खिलाफ संघर्ष कर रहे हैं. पर ऐसा नहीं है. सच्चाई ये है कि रूट अपने करियर के बेहतरीन फॉर्म में हैं. और, जब बल्लेबाज उस रंग में होता है तो रन अपने आप बनते हैं.”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button