देश

ऑनलाइन फ्रॉड और साइबर फ्रॉड पर लगेगी रोक, बैंक लोगों की समस्या जल्दी दूर कर पाएंगे, जानिए पीएम मोदी ने किया है क्या ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भारतीय रिज़र्व बैंक की दो इनोवेटिव उपभोक्ता केंद्रित पहलों- भारतीय रिज़र्व बैंक की खुदरा प्रत्यक्ष योजना और रिज़र्व बैंक-एकीकृत लोकपाल योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि आज जिन दो योजनाओं को लॉन्च किया गया है उनसे देश में निवेश के दायरे का विस्तार होगा और निवेशकों के लिए कैपिटल मार्केट तक पहुंच बनाना अधिक आसान और सुरक्षित बनेगा। पीएम मोदी ने कहा कि अर्थव्यवस्था में सबकी भागीदारी को प्रोत्साहित करने की जो भावना है उसे खुदरा प्रत्यक्ष योजना नई ऊंचाई देने वाली है। अब देश के एक बहुत बड़े वर्ग को गवर्नमेंट​ सिक्योरिटीज में, देश की संपदा के निर्माण में सीधा निवेश करने में और आसानी होगी।

पीएम मोदी ने कहा कि एक मजबूत बैंकिंग सिस्टम मजबूत होती अर्थव्यवस्था के लिए बहुत जरूरी है। 2014 के पहले कुछ सालों में देश के बैंकिंग सिस्टम को नुकसान पहुंचाया गया था, आज सबको पता है​ कि कैसी​ स्थिति​यां पैदा हो गई थीं। यूपीआई  ने बहुत ही कम समय में डिजिटल ट्रांजेक्शन के मामले में भारत को दुनिया का अग्रणी देश बना दिया है। सिर्फ 7 सालों में भारत ने डिजिटल ट्रांजेक्शन के मामले में 19 गुना की छलांग लगाई है।

RBI की दो इनोवेटिव क्या है

रिजर्व बैंक की एकीकृत लोकपाल योजना के द्वारा देश में लोगों द्वारा बैंकों की शिकायतों के बारे में समाधान प्रक्रिया में और सुधार करने की कोशिश की जाएगी। इसके पीछे सोच यह है कि आम लोगों की शिकायतों का समाधान जल्द और आसान तरीके से हो सके।

भारतीय रिज़र्व बैंक की खुदरा प्रत्यक्ष योजना द्वारा सरकारी सिक्योरिटीज में निवेश की सुविधा देने का वन-स्टॉप सोल्यूशन है। सरकारी बॉन्ड खरीदने के लिए खुदरा निवेशक आरबीआई के साथ रिटेल डायरेक्ट गिल्ट RDG अकाउंट खोल सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button