देश

NEET (UG) की परीक्षा 12 सितंबर को, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने की घोषणा

नई दिल्ली : कोरोना महामारी के कारण टाली गई राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) यूजी की परीक्षा (NEET UG Exam) तारीखों का एलान हो गया है. शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने कहा है कि नीट की परीक्षा (NEET Exam) 12 सितंबर को देशभर में आयोजित की जाएगी.
शिक्षा मंत्री प्रधान (Education Minister Pradhan) ने कहा कि नीट (यूजी) 2021 देश भर में 12 सितंबर, 2021 को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आयोजित किया जाएगा. उन्होंने बताया कि आवेदन प्रक्रिया कल शाम 5 बजे से एनटीए (National Testing Agency) की वेबसाइट (वेबसाइटों) के माध्यम से शुरू होगी.
NEET (UG) की परीक्षा 12 सितंबर को, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने की घोषणा

NEET (UG) की परीक्षा 12 सितंबर को, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने की घोषणा

प्रधान ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘सामाजिक दूरी (Social Distancing) के मानदंडों को सुनिश्चित करने के लिए, जिन शहरों में परीक्षा आयोजित की जाएगी, उनकी संख्या 155 से बढ़ाकर 198 कर दी गई है. उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्रों की संख्या भी 2020 में उपयोग में लाए गए 3862 केंद्रों से अधिक की जाएगी.
परीक्षा के मानकों को लेकर प्रधान ने कहा कि COVID-19 प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित करने के लिए, परीक्षा केंद्र में सभी उम्मीदवारों को फेस मास्क दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि परीक्षा में अभ्यर्थियों की एंट्री और एग्जिट के दौरान टाइम स्लॉट का खास ध्यान रखा जाएगा. यह Staggered time slots होंगे. उन्होंने कहा कि शारीरिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए कॉन्टैक्टलेस रजिस्ट्रेशन, उचित सेनिटाइजेशन के अलावा सोशल डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षार्थियों के बैठने के इंतजाम सुनिश्चित किए जाएंगे.
बता दें कि, नीट 2021 का आयोजन इस साल के 18 अप्रैल को होना था. हालांकि, कोरोना वायरस (COVID-19) की दूसरी लहर की गंभीरता के मद्देनजर परीक्षा अगस्त तक स्थगित कर दी गई थी. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान परीक्षा का आयोजन छात्रों और अन्य कर्मियों के लिए सुरक्षित नहीं होने के कारण परीक्षा 31 अगस्त तक के लिए टाल दी गई.
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत तीन मई को एक अहम फैसले में NEET-PG परीक्षा को 4 महीने के लिए स्थगित करने को मंजूरी दे दी थी. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से जारी एक बयान में कहा गया था कि एनईईटी की स्नातकोत्तर की परीक्षा कम से कम चार महीने के लिए स्थगित की जा रही है और यह परीक्षा 31 अगस्त से पहले आयोजित नहीं की जाएगी.
गौरतलब है कि नीट की परीक्षा से ही जुड़े एक अन्य घटनाक्रम में गत 29 जून को भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश सचिव के. नागराजन की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए मद्रास हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के संबंध कहा था कि तमिलनाजु सरकार की ओर से समिति का गठन व्यर्थ किया गया कार्य है, क्योंकि उच्चतम न्यायालय ने स्पष्ट रूप से कहा है कि तमिलनाडु को नीट परीक्षा को स्वीकार करना होगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button