ताज़ा ख़बरदेश

किस ऑफ लव, सबरीमाला में प्रवेश की कोशिश, बच्चों से सेमीन्यूड पेंटिंग कराने पर मामला दर्ज, जानें कौन हैं रेहाना फातिमा?

एक बड़ी पुरानी कहावत है ‘बदनाम हुए तो क्या हुआ, नाम तो हुआ’। ये कहावत भारतीय इतिहास, राजनीति और समाज के अलग अलग कालखंडों में कई बार बिलकुल सच साबित हुई है। आज यही कहावत बार-बार विवादों की वजह से सुर्खियों में रहने की वजह से एक इंसान के लिए सच होती प्रतीत हो रही है। कभी कोच्चि में मॉरल पुलिसिंग के खिलाफ ‘किस ऑफ लव’ कैम्पेन में हिस्सा लेकर तो कभी सबरीमाला मंदिर में प्रवेश की कोशिश करते हुए, कभी  टॉपलेस तस्वीर अपलोड करके तो कभी बच्चों से सेमीन्यूड पेंटिंग कराने को लेकर एक नाम लगातार वक्त दर वक्त सुर्खियों में रहता है।

वो नाम है केरल की रहने वाली रेहाना फातिमा का। भारत संचार निगम लिमेटेड (बीएसएनएल) ने नोटिस जारी कर विवादित कार्यकर्ता और बर्खास्त कर्मचारी रेहाना फातिमा को सरकारी आवास खाली करने को कहा है साथ ही उन पर बच्चों के संरक्षण का अधिनियम (पोक्सो) के तहत मामला दर्ज किया है। आज आपको विस्तार से बताते हैं विवादों में रहने वाली रेहाना फातिमा की पूरी कहानी।

एक हिन्दू के साथ ओपन रिलेशनशिप में रहने वालीं 31 वर्षीय रेहाना फातिमा बचपन से ही धर्म के रूढ़िवादी रिवाजों पर सवाल उठाती रही हैं। महिलाओं को लेकर दकियानूसी प्रथाओं के विरोध में खुलकर स्टैंड लेने वाली रेहाना ने अपने फेसबुक पेज पर इंट्रो में लिख रखा है- ब्रेक द रूल्स (नियमों को तोड़ना)।

किस ऑफ लव

रेहाना ने साल 2014 में कोच्चि में मॉरल पुलिसिंग के खिलाफ ‘किस ऑफ लव’ कैंपेन में हिस्सा लिया था। उनके पार्टनर मनोज ने किस की वीडियो क्लिप फेसबुक पर शेयर की थी। इस पर काफी बवाल भी हुआ था।

अपनी टॉपलेस तस्वीर की थी पोस्ट

रेहाना का नाम मार्च 2018 में भी सुर्खियों में आया था जब उसने अपनी टॉपलेस तस्वीर अपलोड की थी। एक तस्वीर में रेहाना दो तरबूजों के साथ नज़र आ रही थीं। रेहाना ने कोझीकोड के एक मुस्लिम प्रोफेसर की ओर से स्तनों को लेकर महिलाओं पर की गई अपमानजनक टिप्पणी के विरोध में यह कदम उठाया था।

सबरीमाला में प्रवेश की कोशिश और 18 दिन जेल

2018 में सबरीमाला मंदिर में प्रवेश को लेकर भी रेहाना फातिमा की काफी आलोचना हुई थी। अपने भड़काऊ पोस्ट और अयप्पा भक्तों की आस्था के साथ खिलवाड़ करने को लेकर रेहाना 18 दिन जेल में भी काट चुकी हैं।

बच्चों से सेमीन्यूड पेंटिंग बनवाने पर पोक्सो के तहत मामला दर्ज

भारत संचार निगम लिमेटेड (बीएसएनएल) ने नोटिस जारी कर विवादित कार्यकर्ता और बर्खास्त कर्मचारी रेहाना फातिमा को सरकारी आवास खाली करने को कहा है। यह कार्रवाई ऐसे समय की गई है जब हाल में पुलिस ने उनके द्वारा सोशल मीडिया पर पोस्ट वीडियो के सिलसिले में लैंगिक उत्पीड़न से बच्चों के संरक्षण का अधिनियम (पोक्सो) के तहत मामला दर्ज किया है और उनके घर पर छापेमारी की थी। सरकारी दूरसंचार कंपनी ने कहा कि पुलिस की कार्रवाई से उसकी छवि को धक्का लगा है।

दरअसल, रेहाना फातिमा ने 19 जून को अपने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें वो अर्धनग्न होकर लेटी हैं और अपने नाबालिग बच्चों से पेंटिंग करा रही हैं।  वीडियो वायरल होते ही रेहाना के खिलाफ गैर जमानती अपराध के तहत केस दर्ज हुआ है। उन पर आईटी एक्ट की धारा 67, जुवेनाइल जस्टिस एक्ट की धारा 75 और केरल पुलिस ऐक्ट की धारा 120 के तहत मामला दर्ज हआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button