अन्य

पाकिस्तान में आतंकी ने खुद को बम से उड़ाया, तहरीक-ए-तालिबान ने ली हमले की जिम्मेदारी, 3 लोगों की मौत, 20 घायल

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में रविवार सुबह बम धमाका हुआ है, जिसमें 3 सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई और कम से कम 20 लोग घायल हुए हैं. ऐसी खबर है कि क्वेटा के मास्तुंग रोड पर स्थित एक चेकपोस्ट पर ये आत्मघाती हमला हुआ है. बलूचिस्तान काउंडर-टेररिजम डिपार्टमेंट (सीटीडी) ने इस हमले की पुष्टि की है और बताया है कि इसमें सोहाना खान एफसी चेकपोस्ट को निशाने पर लिया गया था. प्रवक्ता ने बताया कि सीटीडी की टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है और जांच शुरू कर दी गई है.

विस्फोट के तुरंत बाद पुलिस, कानून प्रवर्तन एजेंसियां ​​और बचाव अधिकारी इलाके में पहुंच गए. घायलों को शेख जैद अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने बताया कि आत्मघाती हमलावर ने चेकपोस्ट पर कानून प्रवर्तन एजेंसी के वाहन में अपनी मोटरसाइकिल से टक्कर मार दी थी. जिसके बाद वहां जोरदार धमाका हुआ. विस्फोट होने के तुरंत बाद जांच करने के लिए बम निरोधक इकाई घटनास्थल पर पहुंच गई. वहीं अब खबर मिली है कि पाकिस्तान तहरीक-ए-तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है. प्राथमिक रिपोर्ट्स के अनुसार, हमले में फ्रंटियर कॉर्प्स (पाकिस्तान सुरक्षा बल) को निशाना बनाया गया है.

तालिबान के आने से पाकिस्तान पर हमले बढ़े

जब से अफगानिस्तान पर तालिबान की पकड़ मजबूत हुई है, तभी से पाकिस्तान पर टीटीपी के हमले बढ़े हैं. पाकिस्तान ने टीटीपी को आंतकी संगठन घोषित किया हुआ है. यही कारण है कि वो तालिबान से मुलाकात कर बार-बार टीटीपी के आतंकियों को अफगानिस्तान से बाहर निकालने की मांग कर रहा है. हाल ही में पाकिस्तान को उस वक्त झटका लगा जब तालिबान ने कहा कि पाकिस्तान खुद टीटीपी (TTP Attacks on Pakistan) से निपटे. जब से तालिबान का काबुल पर कब्जा हुआ, तब से अब तक कम से कम 52 पाकिस्तानी सुरक्षाबलों की अलग-अलग हमलों में मौत हुई है और कई घायल हुए हैं.

बीते महीने भी हुआ भीषण हमला

इससे पहले पिछले महीने भी बलूचिस्तान के जारघून रोड के यूनिवर्सिटी चॉक पर पुलिस की एक वैन को निशाना बनाते हुए उसपर हमला किया गया था. जिसमें 15 पुलिसकर्मी सवार थे. इनमें से दो पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी और बाकी घायल हुए थे (Pakistan TTP Attack). विशेषज्ञों का कहना है कि बेशक पाकिस्तान सोचता है कि उसने तालिबान को हमेशा मदद दी है इसलिए वो उसे कोई नुकसान नहीं पहुंचाएगा तो ये गलत है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button