देशबड़ी खबर

वाइस एडमिरल आर हरी कुमार होंगे नौसेना के नए चीफ, 30 नवंबर को संभालेंगे पद

केंद्र सरकार ने वाइस एडमिरल आर हरि कुमार को नौसेना स्टाफ का अगला प्रमुख नियुक्त किया है. हरि कुमार वर्तमान में पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ हैं और 30 नवंबर को अपना नया कार्यालय संभालेंगे. इसकी जानकारी रक्षा मंत्रालय ने दी है.

मंत्रालय ने मंगलवार रात को घोषणा की कि पश्चिमी नौसेना कमांडर वाइस एडमिरल आर. हरि कुमार को भारतीय नौसेना का अगला अध्यक्ष नियुक्त किया है. रक्षा मंत्रालय ने बताया कि भारतीय नौसेना के वर्तमान प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह 30 नवंबर को सेवा से सेवानिवृत्त होंगे. इसी दिन दोपहर से हरि कुमार अपना पदभार संभालेंगे. 12 अप्रैल 1962 को जन्मे वाइस एडमिरल आर. हरि कुमार को जनवरी 1983 में भारतीय नौसेना की कार्यकारी शाखा में कमीशन दिया गया था.

हरि कुमार ने अलग-अलग कमांड, स्टाफ और इंस्ट्रक्शनल अपॉइंटमेंट्स में अपनी सर्विस दी है. वाइस एडमिरल आर. हरि कुमार के ‘सी कमांड’ में आईएनएस निशंक, मिसाइल कार्वेट, आईएनएस कोरा और गाइडेड मिसाइल डिस्ट्रॉयर आईएनएस रणवीर शामिल हैं. उन्होंने भारतीय नौसेना के विमानवाहक पोत आईएनएस विराट की कमान भी संभाली है. कुमार ने इस साल फरवरी में मुंबई स्थित डब्ल्यूएनसी, जिसे नौसेना की दाहिनी-भुजा कहा जाता है, की बागडोर संभाली थी.

 

शील वर्धन सिंह सीआईएसएफ के प्रमुख नियुक्त

इस बीच, भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारियों शील वर्धन सिंह और अतुल कारवाल को मंगलवार को क्रमश: केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) का प्रमुख नियुक्त किया गया है. सिंह 1986 बैच के बिहार कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं और फिलहाल खुफिया ब्यूरो में विशेष निदेशक के पद पर तैनात हैं.

कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी आदेश के मुताबिक, सिंह को सीआईएसएफ का महानिदेशक नियुक्त किया गया है और वह अपनी सेवानिवृत्ति 31.08.2023 तक इस पद पर बने रहेंगे. आदेश के अनुसार, गुजरात कैडर के 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी कारवाल को एनडीआरएफ का महानिदेशक नियुक्त किया गया है और इसके लिए बल के प्रमुख के पद को अस्थाई रूप से दो साल के लिए बढ़ाकर डीजी (महानिदेशक) किया गया है. कारवाल फिलहाल हैदराबाद में स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी के निदेशक पद पर हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button