उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

UP विधानसभा सत्र LIVE:विपक्ष के सवाल पर CM योगी का जवाब

बोले- अर्थव्यवस्था के मामले में पहले यूपी 6वें नंबर पर था, आज दूसरे पर है, बजट का दायरा भी दोगुना बढ़ा

उत्तर प्रदेश विधानसभा में योगी सरकार के 7 हजार 301 करोड़ रुपए के अनुपूरक बजट पर चर्चा चल रही है। नेता विपक्ष और सपा विधायक राम गोविंद, BSP विधानमंडल दल के नेता शाह आलम, कांग्रेस नेता अराधना मिश्रा, सुहेलदेव समाज पार्टी के ओम प्रकाश राजभर ने सरकार को बेरोजगारी, महंगाई, कोरोना, किसानों के मुद्दे पर घेरा। विपक्ष के सभी नेताओं ने अनुपूरक बजट को चुनावी बताया। अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विपक्ष के सवालों का जवाब दे रहे हैं।

विपक्ष के सवालों पर योगी ने कहा, पिछले साढ़े चार साल के दौरान प्रदेश में बजट का दायरा लगभग दोगुना बढ़ा है। आज हम लगभग 6 लाख करोड़ रुपए तक बजट के दायरे तक पहुंचने में सफल रहे हैं। बड़ी सोच, बड़े कार्य तो बजट का दायरा भी बड़ा होगा। प्रदेश की GSDP पांच साल पहले 10-11 लाख करोड़ रुपए के आसपास थी आज हम इसे 20-21 लाख करोड़ रुपए तक ले आए। 2015-16 में उत्तर प्रदेश देश अर्थव्यवस्था में 6 नंबर पर थे। उत्तर प्रदेश आज नंबर 2 की अर्थव्यवस्था बनी है।

सीएम योगी का भाषण LIVE

  • उत्तर प्रदेश में 1.40 करोड़ लोगों के घरों तक नि:शुल्क बिजली उपलब्ध कराई गई। नि:शुल्क गैस दिए गए। इसमें कहीं भी जाति, धर्म, पक्ष या विपक्ष नहीं देखा। यूपी में जितने लोग हैं सब हमारे हैं
  • महामारी में एक भी गरीब भूखा नहीं मरा। हर घर को हमने नि:शुल्क अनाज दिया। महामारी को हम स्वीकार करते हैं। उससे बचाव के प्रति हमें जागरूकता पैदा करना होगा।
  • आज इज ऑफ डूइंग बिजनेस में यूपी नंबर 2 पर है। उत्तर प्रदेश भगवान राम की जन्म स्थली है। भगवान कृष्ण की जन्म स्थली है हमने भगवान राम की महिमा को और बढ़ाने की कोशिश की। आज सब भगवान राम की बात कर रहे है। यह हमारी विचारधारा की जीत है ।जो लोग राम के अस्तित्व को नकारते थे आज दंडवत होकर कह रहे हैं कि हम भी राम के भक्त हैं।
  • 2017 में जब हम सत्ता में आए थे तब यूपी टूरिज्म में नंबर 4 पर थी। इसे हम नंबर एक पर लेकर आए हैं। निवेश के लिए भयमुक्त माहौल दिया है। यूपी निवेश में भी नंबर एक पर है।
  • प्रदेश के अंदर बिना किसी भेदभाव के काम हो रहा है। सबका विकास, सबका विश्वास की नीति से काम हो रहा है। बोले, प्रदेश में हर किसी के आय को बढ़ाने में हम सफल हुए हैं।
  • प्रदेश की जीडीपी बढ़ी है। पहले अर्थव्यवस्था के मामले में प्रदेश देश में 6वें और 7वें नंबर पर थी। हमारी सरकार की बदौलत आज अर्थयवस्था मजबूत हुई है। इस मामले में यूपी देश में दूसरे नंबर पर आ गया है।
  • दंगा, भ्रष्टाचार, अपराध के मामले में यूपी पहले नंबर पर था। अपराध, भ्रष्टाचार, दंगा खत्म हो गया।

नेता विपक्ष राम गोविंद ने क्या-क्या बोला ?

  • बेरोजगारी : सरकार रोजगार विरोधी है। प्रवक्ताओं की भर्ती प्रक्रिया 2016 में शुरू हुई। वह अभी तक पूरी नहीं हो सकी। यह सरकार कह रही है कि उसने बेरोजगारी दूर कर दी। सरकार विज्ञापन के जरिए बताने में जुटी है। हकीकत ये है कि बैंक से लोन लेने में युवाओं का पसीना छूट जाता है। बेरोजगार त्राहि-त्राहि कर रहा है। युवा अलग-अलग जगहों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार उन पर लाठी चलवा रही है। चौधरी ने शायरी के जरिए सरकार पर तंज कसा और अखिलेश यादव की तारीफ की। बोले, ‘तुम रोक न सकोगे तूफान, अभी तक एक अखिलेश थे अब हर युवा अखिलेश बन लड़ेगा’।
  • विकास : सरकार सपने में भी विकास, जगने में भी विकास, काम करने में भी विकास करने की बात कहती है लेकिन विकास भाई ढूंढने पर भी नहीं मिलते हैं। राजधानी लखनऊ में इन लोगों ने क्या किया? जो अखिलेश यादव के कार्यकाल में बना। केवल उसका नाम बदलने का काम किया। चौधरी ने बेरोजगारी का मुद्दा भी उठाया। बोले- सरकार की खराब नीतियों के चलते आज बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। जिनके पास पहले नौकरी थी, वो भी आज बेरोजगार हो गए हैं, लेकिन सरकार झूठे प्रचार में जुटी है।
  • गौ योजना : सरकार का दावा है कि वह गौशाला बना रहे हैं। गौ-वंश का संरक्षण कर रह रहे हैं। लेकिन ये केवल कागजो में है। प्रदेश के किसी हिस्से में घूम लीजिए तो छुट्टा गोवंशों का झुंड दिखाई देगा। तमाम गोवंश मर गए। गोवंश को लेकर सरकार झूठ बोल रही है। गोशाला के नाम पर बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है। रजिस्टर में जितने गोवंश दर्ज हैं उतने हकीकत नहीं हैं। इसकी जांच होनी चाहिए। ये सरकार जबसे आई है। जनता आफत में है।
  • कोरोना : पूरा प्रदेश श्मशान बन गया था। कोविड काल में दवा नहीं मिल पा रही थी। दवाओं की कालाबाजारी हो रही थी। मुख्यमंत्री समेत पूरी सरकार बंगाल चुनाव में व्यस्त थे। जब तक प्रचार करके लौटे तब प्रदेश की आधी जनसंख्या समाप्त हो गयी थी। इस संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने अध्यक्ष से इसे (आधी जनसंख्या समाप्त होने की बात) कार्यवाही से निकालने का आग्रह किया। इसपर इसे कार्यवाही से निकाल दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button