उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे पर अभी मुफ्त में होगा सफर, नहीं लगेगा टोल, जानें वजह

लखनऊ से गाजीपुर तक का पूर्वांचल एक्सप्रेस वे 16 नवंबर से जनता के लिए खुल जाएगा. इससे अब 301 किलोमीटर का सफर तीन घंटे 50 मिनट में पूरा हो जाएगा. सरकार को इस एक्सप्रेस वे के जरिए टोल के रूप में 202 करोड़ रुपए सालाना मिलेंगे. अभी तो कुछ दिन ये सफर मुफ्त रहेगा. वहीं आगे टोल टैक्स वसूलने का काम निजी कंपनी को दिया गया है.

ये कंपनी जल्द प्रति किमी के हिसाब से टोल की दरें तय करेगी और दोनों चोर पर बने टोल प्लाजा से आने-जाने का टोल टैक्स लगेगा. माना जा रहा है कि इसकी दरें लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे की दरों के आसपास ही रहेंगी. इस नवनिर्मित एक्सप्रेसवे पर फिलहाल रोजाना 15 से 20 हजार वाहने गुजरेंगे. ये तादाद धीरे-धीरे और बढ़ेगी. यूपीडा की कोशिश है कि पूर्वी यूपी और बिहार से आने वाले लोग दिल्ली-नोएडा जाने के लिए इस एक्सप्रेसवे के अलावा लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे और यमुना एक्सप्रेसवे का भी इस्तेमाल करें. इससे इस एक्सप्रेस वे का ज्यादातर उपयोग हो सकेगा. इसके साथ ही टोल के जरिए यूपीडा की आमदनी भी बढ़ेगी.

9 जिलों से होकर गुजरेगा एक्सप्रेसवे

मौजूदा समय में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश के 9 जिले लखनऊ, सुल्तापुर, फैजाबाद, अंबेडकर नगर, आजमगढ़, बाराबंकी, अमेठी, मऊ और गाजीपुर से होकर गुजरेगा. इसका विस्तार बलिया तक किया जाएगा. 301 के किमी के एक्सप्रेसवे पर सुरक्षिक यात्रा के लिए कई पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. इस पर एडवांस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम लागू किया गया है. हादसे का सबब बनने वाले पशुओं को रोकने के लिए दोनों तरह फेंसिंग की गई है.

इसके अलावा इन आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए टीमें एक्सप्रेस पर तैनात की गई हैं. दुर्घटना की स्थिति में हर पैकेज में लाइफ सपोर्ट सिस्टम युक्त दो-दो एंबुलेंस तैनात की गई हैं. सैनिक क्लयाण बोर्ड ने यहां सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. 20 पेट्रोलिंग वाहन तैनात किए गए हैं. इसी के साथ क्रैश बैरियर भी लगाए गए हैं.

पीएम मोदी करेंगे लोकार्पण

पीएम मोदी सुल्तामपुर में कूडेभार स्थित एयरस्ट्रिप पर दोपहर ढ़ाई बजे इस एक्सप्रेसवे का लोकार्पण करेंगे. पीएम कार्यालय ने इस प्रस्तावित कार्यक्रम की पुष्टि कर दी है. पीएम के समक्ष भारतीय वायु सेना के आधुनिक लड़ाकू विमान एयरस्ट्रिप पर उतरेंगे और यहीं से उड़ान भरेंगे. आपात स्थितियों में इस एयरस्ट्रिप का उपयोग ये विमान कभी भी कर सकेंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button