देशबड़ी खबर

समीर वानखेड़े पर लगे आरोपों की विभागीय जांच करेगी NCB, अचानक दिल्ली बुलाया गया

शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान से जुड़े मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में लगातार हो रहे आरोपों के मद्देनजर समीर वानखेड़े को एनसीबी के दिल्ली मुख्यालय में पूछताछ के लिए बुलाया गया है. एनसीबी की मुंबई टीम ने उनसे संबंधित सभी जानकारियां दिल्ली मुख्यालय को दी थी. दिल्ली के लिए समीर वानखेड़े रवाना हो चुके हैं. समीर वानखेड़े पर लगे आरोपों की विभागीय जांच करेगी NCB. समीर वानखेड़े को दिल्ली बुलाए जाने की  जानकारी एनसीबी के मुख्य जांच अधिकारी ज्ञानेश्वर सिंह ने दी है. इस बीच गवाह प्रभाकर साइल द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम कल दिल्ली से मुम्बई के लिए निकल सकती है. अब इस ड्रग्स मामले की जांच ज्ञानेश्वर सिंह करेंगे. वे इस पूरे मामले के चीफ विजिलेंस ऑफिसर रहे हैं. ज्ञानेश्वर सिंह ने मी़डिया से बात करते हुए कहा कि ‘किसी भी अधिकारी या व्यक्ति विशेष के बारे में जांच अभी-अभी शुरू हुई है. जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ेगी, हम आपको सूचित करेंगे. ‘

प्रभाकर साइल के खुलासे के खिलाफ समीर वानखेड़े सेशंस कोर्ट गए

मुंबई से गोवा जा रहे क्रूज में ड्रग्स और रेव पार्टी पर एनसीबी के जोनल डिरेक्टर समीर वानखेड़े के नेतृत्व में छापेमारी की गई थी. 2 अक्टूबर की रात को हुई इस छापेमारी में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान सहित अन्य लोग गिरफ्तार किए गए थे. इस छापेमारी के दौरान आर्यन खान के साथ एक व्यक्ति की तस्वीर वायरल हुई थी. यह व्यक्ति के.पी,गोसावी है. जो इस पूरे मामले में 9 गवाहों में से एक है. फिलहाल यह फरार है. कल इसी किरण गोसावी के बॉडीगार्ड रहे प्रभाकर सइल नाम के शख्स ने खुलासा किया था कि उसने गोसावी और किसी सैम नाम के शख्स के बीच फोन पर हुई बातचीत सुनी थी. इस बातचीत में गोसावी ने आर्यन खान के मामले को दबाने के लिए 25 करोड़ का बम डालने को कहा था और फिर कहा कि 18 करोड़ में डील फाइनल करते हैं. इसमें से 8 करोड़ समीर वानखेड़े को दिया जाना था. प्रभाकर ने फिर बताया कि शाहरुख खान की मैनेजर पूजा ददलानी से इस डील को फिक्स किया जा रहा था. लेकिन बाद में पूजा ददलानी ने फोन उठाना बंद कर दिया था.

समीर वानखेड़े ने प्रभाकर साइल के सभी आरोपों को ठुकराया है

जवाब में समीर वानखेड़े ने प्रभाकर साइल के आरोप को ठुकरा दिया है. एनसीबी ने इस संबंध में कल प्रेस नोट जारी किया था. आज समीर वानखेड़े इस मामले में शिकायत लेकर सेशंस कोर्ट गए. समीर वानखेड़े का कहना है कि प्रभाकर साइल के आरोपों में कोई तथ्य नहीं है. प्रभाकर साइल ने ड्रग्स केस के 22 दिनों बाद एफिडेविट कर और सोशल मीडिया में ये सब बता रहा है. अगर उसके पास पुख्ता सबूत है तो वो कोर्ट में अपनी बात रखे. समीर वानखेड़े ने कहा कि मेरे खिलाफ मीडिया ट्रायल शुरू है. मुझ पर ओछी और पर्सनल टीका-टिप्पणी की जा रही है.

प्रभाकर साइल अपनी जान की सुरक्षा के लिए पुलिस आयुक्त कार्यालय पहुंचा

इस बीच प्रभाकर साइल आज (सोमवार, 25 अक्टूबर) अपनी जान की सुरक्षा के लिए पुलिस आयुक्त के कार्यालय पहुंचा. उसने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े से अपनी जान को खतरा बताया है. उसने किरण गोसावी के रहस्यमयी तरीके से गायब होने का कारण भी समीर वानखेड़े को बताया है. इस बीच प्रभाकर साइल के अंधेरी पूर्व स्थित घर में उसकी मां ने बताया कि प्रभाकर 4 महीनों से घर नहीं आया है. उसकी दो बेटियां हैं. वह घर में खर्चे के लिए पैसे भी नहीं भेज रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button