देशबड़ी खबर

नवाब मलिक का दावा- ट्रैप के जरिए आर्यन खान को क्रूज पर बुलाया, मोहित कंबोज को बताया मास्टरमाइंड

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने रविवार को सुबह 10 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने की बात कही थी. मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आज बड़े खुलासे किए. उन्होंने कहा आर्यन खान ने क्रूज पार्टी का टिकट नहीं खरीदा था. प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला ही उन्हें वहां लाए थे. ये फिरौती और अपरहण का मामला है. मोहित कंबोज फिरौत मांगने में समीर वानखेड़े का मास्टरमाइंड और पार्टनर है. नवाब मलिक ने आगे कहा कि मेरी लड़ाई NCB से नही है बल्कि उन लोगों के खिलाफ हूं, जो इस शहर में ड्रग्स का कारोबार कर रहे हैं उगाही कर रहे हैं. फर्जी रेड के बारे में एनसीबी के DG को गलत जानकारी दी गई. बीजेपी वालों से कहना चाहता हूं कि मोहित कंबोज ,सुनील पाटिल ,मनीष भानुशाली जैसे लोगों को शील्ड ना करें.

चार्जशीट फाइल करने के बाद क्या जांच होगी?

एनसीपी नेता ने आगे कहा कि खबर आई कि संजय सिंह अब एनसीबी के 6 मामले की जांच करेंगे. मैं जानना चाहता हूं कि जिस केस की चार्जशीट फ़ाइल हो चुकी हैं, उसमें क्या जांच करने वाले हैं. अगर मुझे डराने की कोशिश की जा रही है तो इस भ्रम में नहीं रहे. मैं अपनी लड़ाई को अंजाम तक लेकर जाऊंगा. मलिक ने कहा कि 6 अक्टूबर के दिन मैंने कुछ जानकारी दी थी. 2 अक्टूबर को एनसीबी रेड की खबर आई. एक मेगा स्टार के बेटे की खबर आई. इसमें 8 लोगों को अरेस्ट किया गया.  6 अक्टूबर को मैंने इस रेड को फर्जी बताया था. वहीं 2 लोगों का वीडियो मैंने एक्सपोज किया था,  पहला किरण गोसावी और दूसरा मनीष भानुशाली. हमने सवाल पूछा था कि ये दोनों व्यक्ति कौन है जो हाई प्रोफाइल आरोपी को खिंचते हुए ले जा रहे हैं.

मोहित कंबोज पर लगाए आरोप

नवाब मलिक ने आगे कहा कि ज्ञानेश्वर सिंह सामने आए थे, उन्होंने सफाई दी थी और कहां था कि नवाब मलिक के दामाद को अरेस्ट किया था इसलिए ऐसा आरोप लगा रहे हैं. मलिक ने आरोप लगाया कि एनसीबी ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया था, लेकिन गिरफ्तारी 8 की दिखाई गई.  3 लोगों में मोहित कंबोज का साला भी था, जिसे छोड़ा गया था. 1100 करोड़ का बैंक घोटाला करने वाला मोहित बीजेपी नेता है. पिछले 1 महीने से मोहित पूरी तरह से छटपटा रहे हैं. एनसीपी नेता ने कहा कि मेरा आरोप है कि मोहित कंबोज के साले के थ्रू आर्यन को ट्रैप किया गया और पैसे की उगाही का मामला शुरू हुआ. उगाही का मास्टर माइंड मोहित ही है. मोहित की वानखेड़े से अच्छे रिश्ते हैं. मोहित  मुंबई में 12 होटल चलाता है.

ओशिवारा कब्रिस्तान के बाहर हुई मीटिंग

मलिक ने आगे कहा कि 7 अक्टूबर को समीर वानखेड़े और मोहित कंबोज की ओशिवारा कब्रस्तान के बाहर मीटिंग हुई थी. वानखेड़े हजारों करोड़ रुपए की वसूली करने के लिए बॉलीवुड और बड़े लोगों को टारगेट करता है. सैम डिसूजा का एक वीडियो चला था, जिसमे NCB और वानखेड़े को क्लीन चिट दे रहा था. मुझ पर आरोप लगाया गया कि मैं प्रभाकर सैल को आगे कर रहा हूं. 22 अक्टूबर को मुझे एक नगर सेवक मनोज संसारे का फोन आया. उन्होंने कहा कि केपी गोसावी और उसका साथी सरेंडर करने वाला है. मैंने उसी दिन जानकारी मुख्यमंत्री को दी थी. सीएम ने DGP को मेरे पास भेजा. मैंने DGP से बात की. पालघर के SP बांद्रा पहुंच चुके थे.

उन्होंने आग कहा कि मैंने जब संसारे को फोन लगाया तब उनका जवाब था गोसावी का फोन नहीं लग रहा है. बाद में मनोज संसारे 3 लोगों के साथ मेरे ऑफिस पहुंचे. नवाब मलिक ने आगे कहा कि वानखेड़े जिस तरह से आरोपी को पढ़ा रहे हैं. मैं किसी को कोई पाठ नही पढ़ा रहा हूं. सुनील पाटिल को मैं जीवन में कभी नही मिला. सुनील पाटिल का NCP से कोई लेना देना नहीं है. उल्टा मनीष भानुशाली के बीजेपी के कई बड़े नेताओं के साथ फोटो हैं.

सैम डिसूजा पर भी लगाए आरोप

एनसीपी नेता ने कहा कि सैम डिसूजा एक केस का आरोपी था उस केस में सचिन टोपे को गिरफ्तार किया गया था. 4 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी. 5वां आरोपी सैम डिसूजा था. इसे एनसीबी ने समन भेजा था, हाजिर होने के लिए अधिकारी वीवी सिंह ने सैम डिसूजा को फोन किया. फोन का रिकॉर्डिंग मीडिया के सामने रखा गया है. सैम डिसूजा जिन दो मीडिया कर्मी के साथ मिलकर काम करता है दोनों फ्रॉड पत्रकार हैं, समीर वानखेड़े के प्राइवेट आर्मी के हिस्सा है. यूट्यूब चैनल चलाने वाले 2 पत्रकार ड्रग्स पैडलर और वानखेड़े के साथ मिलकर पूरा खेल कर रहे हैं.

मंत्री को क्यों बुलाया जा रहा था?

नवाब मलिक ने कहा कि हमारी मांग है कि 26 मामलों की निष्पक्ष जांच की जाए. केंद्र और राज्य दोनों की SIT बन चुकी है. जब तक यह लॉजिकल एंड तक नहीं जाती मैं रुकने वाला नही हूं. विक्टिम आरोपी नहीं होता, शाहरुख खान को डराया जा रहा है कि नवाब मलिक अगर बोलना नही बंद किया तो आपका लड़का लंबे समय के लिए लटक जाएगा.

एनसीपी नेता ने कहा कि ललित होटल में 7 महीने तक रूम बुक किया गया था. सैम डिसूजा ,मनीष भानुशाली और मोहित कंबोज की गैंग यहां से ड्रग्स और उगाही का धंधा चला रहा था. एनसीबी में समीर वानखेड़े ,आशीष रंजन सिंह, वी वी सिंह और वानखेड़े का ड्राइवर माने ये 4 चौकड़ी है, जो उगाही का कारोबार चला रहे हैं. मेरे दामाद से आशीष रंजन सिंह ने पैसे मांगे थे. क्रूज पर फैशन TV से जुड़ा काशिफ खान लगातार महाराष्ट्र के मंत्री असलम शेख पर दबाव बना रहा था कि क्रूज पार्टी में आए. मंत्री को क्यों बुलाया जा रहा था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button