देशबड़ी खबर

रिकॉर्ड जीत की ओर बढ़ रही हैं ममता बनर्जी, जानिए पिछले 4 चुनावों के आंकड़े

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव  में नंदीग्राम  में बीजेपी के उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के हाथों पराजित होने के बाद ममता बनर्जी ने भवानीपुर से विधानसभा उपचुनाव लड़ा था और आज विधानसभा उपचुनाव के परिणाम के रूझान से साफ है कि ममता बनर्जी रिकॉर्ड मार्जिन से जीत हासिल करने की ओर बढ़ रही हैं. दसवें राउंड की मतगणना खत्म होने पर ममता बनर्जी को 78 फीसदी वोट मिले हैं, जबकि बीजेपी उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल को 19 फीसदी और सीपीएम उम्मीदवार श्रीजीब बिस्वास को केवल 2 प्रतिशत वोट मिले हैं.

बता दें कि ममता बनर्जी पिछले दो चुनाव वह अपने घर की सीट भवानीपुर से जीतती रही हैं, लेकिन विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी नंदीग्राम से चुनाव लड़ीं थीं और वह शुभेंदु अधिकारी के हाथों पराजित हुई थी, लेकिन विधानसभा चुनाव में बीजेपी को करारी हार मिली थी और टीएमसी ने 213 सीटों पर जीत हासिल की थी और ममता बनर्जी तीसरी बार सीएम बनी थीं.

विधानसभा चुनाव में टीएमसी को मिला था 57.71 वोट

2021 में इस सीट पर टीएमसी के शोभनदेब चट्टोपाध्याय लड़े थे. शोभनदेव को 73,505 वोट मिले थे. यह कुल वोट का 57.71 फीसदी था. वहीं बीजेपी की रुद्रानी घोष को 44,786 वोट मिले जो 35.16 फीसदी था. कांग्रेस का परफॉर्मेंस बेहद खराब रहा. उनके प्रत्याशी मो. शादाब खान को महज 5,211 वोटों से ही संतोष करना पड़ा था. हालांकि शोभनदेब ने ममता बनर्जी के लिए इस सीट से इस्तीफा दे दिया था और उनके इस्तीफे के कारण ही भवानीपुर में उपचुनाव हुए हैं.

2011 में ममता बनर्जी ने भवानीपुर से जीती थीं उपचुनाव

साल 2011 के विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी ने लेफ्ट का 34 साल पुराना किला ध्वस्त किया था. कांग्रेस के साथ अलायंस में टीएमसी ने 226 सीटें (टीएमसी 184, कांग्रेस 42) जीतते हुए लेफ्ट फ्रंट का गढ़ अपने कब्जे में कर लिया था. भवानीपुर सीट से टीएमसी के सुब्रत बख्शी जीते थे. सुब्रत बख्शी को 87903 (64.77 फीसदी वोट) और सीपीएम के हारे प्रत्याशी नारायण प्रसाद जैन को 37967 वोट हासिल हुए. सुब्रत बक्शी ने 49936 वोटों (कुल वैध मतों का 36.79 फीसदी) से चुनाव जीता। ममता ने इसी सीट से उपचुनाव लड़ा.

उपचुनाव में ममता बनर्जी को मिली थी बंपर जीत

उपचुनाव में ममता बनर्जी ने 77.46 फीसदी वोटों के साथ सीपीएम की नंदिनी मुखर्जी को करीब 95 हजार वोटों से शिकस्त दी. यानी ममता बनर्जी ने 12.69 प्रतिशत ज्यादा मत हासिल की थी, लेकिन इसके 5 साल बाद 2016 के विधानसभा चुनाव पर नजर डालें तो ममता बनर्जी की जीत का अंतर बहुत कम हो गया. ममता बनर्जी को 65,520 वोट मिले थे. यानी 2011 में जितना उनकी जीत का अंतर था उससे भी 30 हजार कम वोट उन्हें मिले थे. कांग्रेस की दीपा दास मुंशी को 40,219 वोट हासिल हुए. इस बार दीदी ने 25,301 वोटों से जीत दर्ज की लेकिन 2011 के मुकाबले उन्हें 29.79 फीसदी कम (47.67 प्रतिशत) वोट मिले। बीजेपी के चंद्र कुमार बोस को इस चुनाव में 26291 वोट मिले थे.

साल 2016 में ममता बनर्जी को कम मिले थे वोट

2016 के विधानसभा चुनाव पर नजर डालें तो ममता बनर्जी की जीत का अंतर बहुत कम हो गया। इस बार ममता को 65,520 वोट मिले थे. यानी 2011 में जितना उनकी जीत का अंतर था उससे भी 30 हजार कम वोट उन्हें मिले. कांग्रेस की दीपा दास मुंशी को 40,219 वोट हासिल हुए। इस बार दीदी ने 25,301 वोटों से जीत दर्ज की लेकिन 2011 के मुकाबले उन्हें 29.79 फीसदी कम (47.67 प्रतिशत) वोट मिले. बीजेपी के चंद्र कुमार बोस को इस चुनाव में 26291 वोट मिले थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button