उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखीमपुर खीरी

Lakhimpur Kheri Case: 2 गिरफ्तार, IG ने मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को भेजा समन

लखीमपुर: लखीमपुर हिंसा मामले  में पहली गिरफ्तारी करते हुए पुलिस ने आशीष पांडेय एवं लवकुश नामक दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है. यह दोनों लोग काफिले में मौजूद थे. पुलिस की कई टीमों ने स्थानीय मुखबिरों की सूचना पर लगातार छापेमारी की है. इसके अतिरिक्त तीन अन्य संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लेकर उनसे एक अज्ञात स्थान पर पूछताछ की जा रही है. आईजी लक्ष्मी सिंह ने कहा कि मुख्य आरोपी (आशीष मिश्रा) को भी हम आज समन भेज रहे हैं.

लखनऊ की आईजी लक्ष्मी ने बयान दिया है कि वे जल्द आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लेंगी. आईजी लक्ष्मी सिंह ने कहा कि मुख्य आरोपी (आशीष मिश्रा) को भी हम आज समन भेज रहे हैं. हम उनका बयान दर्ज करेंगे. उसके आधार पर आगे सबूत इकट्ठे कर रहे हैं. हमने 2 लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया है. उनके बयानों के आधार पर 3 अन्य की गिरफ्तारी की गई. पूछताछ जारी है ये हमें बहुत सारी जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं.

बहुत जल्द आगे की कार्रवाई की जाएगी. हमें घटना से संबंधित कुछ जरूरी क्लू मिले हैं. घटना के दिन मारे गए तीनों लोगों का घटना में क्या रोल था इसके बारे में भी कुछ जानकारियां मिली हैं. घटना कैसे हुई क्या हुआ इन सब पहलुओं पर विस्तार से पूछताछ हो रही. मुख्य आरोपी मंत्री पुत्र के बारे में आईजी ने कहा कानून सबके लिए बराबर है. हम मुख्य आरोपी की भी तलाश कर रहे हैं. अगर, आरोपी जांच में सहयोग नहीं करेगा तो हम कोर्ट जाएंगे.

आईजी ने कहा कि जिले में इंटरनेट सेवा तब तक बहाल नहीं की जा सकती जब तक कानून व्यवस्था की स्थिति खराब होने की संभावनाएं हैं. जब स्थितियां समान हो जाएंगी तो इंटरनेट सेवाएं भी बहाल कर दी जाएंगी. इंटरनेट चलने से तमाम तरीके की अफवाहें फैलने का खतरा है, जिसकी वजह से अभी इंटरनेट हम नहीं शुरू होने देना चाहते. हमें उम्मीद है जल्द सब ठीक होगा.

उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा दर्ज की गई एक एफआईआर में यह लिखा गया है कि 3 अक्टूबर को हुई हिंसा, जिसमें किसानों समेत 8 लोगों की मृत्यु हो गयी थी, वह पूरी तरह एक पूर्व नियोजित साजिश का हिस्सा थी, जिसे अजय मिश्रा एवं आशीष मिश्रा द्वारा अंजाम दिया गया था. तिकुनिया पुलिस थाने में इन्स्पेक्टर जगजीत द्वारा दर्ज की गई इस एफआईआर में स्पष्ट है कि आशीष 15-20 हथियारबंद लोगों के साथ तीन गाड़ियों के काफिले में वहां मौजूद थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button