देशबड़ी खबर

जम्मू कश्मीर: श्रीनगर के चनापोरा इलाके में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर जिले के चनापोरा इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच (Jammu kashmir Encounter) फिर से मुठभेड़ शुरू हो गई. कश्मीर पुलिस ने पूरे मामले की जानकारी दी है.सुरक्षा बलों द्वारा गुरुवार शाम एक वाहन को रोकने की कोशिश के बाद श्रीनगर के चनापोरा इलाके में आग का आदान-प्रदान शुरू हो गया. पुलिस और अर्धसैनिक बल केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने इलाकों में तलाशी अभियान चलाया लेकिन किसी का पता नहीं चल सका.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि गोलीबारी में शामिल आतंकवादी अंधेरे की आड़ में भाग सकते थे. अधिकारी ने नाम न छापने का अनुरोध करते हुए कहा, ‘बल अभी भी इलाके पर कड़ी नजर रखे हुए हैं.’केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार को तीन दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पहुंचने वाले हैं. पुलिस ने मोटरसाइकिलों को जब्त कर लिया है और शहर भर में अतिरिक्त चेकिंग प्वाइंट बनाए गए हैं.

शोपियां में सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को मार गिराया

सेना के जॉइन्ट फोर्सेस ने इलाके को चारों तरफ से घेर लिया है. सेना को संदेह था कि आतंकवादी इधर ही कहीं ना कहीं छुपे हुए हैं. जैसे ही आर्मी ने संदिग्ध आतंकवादी ठिकाने पर नाकेबंदी की, आतंकियों ने जवानों पर गोलीबारी करनी शुरू कर दी. सूत्रों के अनुसार इलाके में करीब दो आतंकवादी क्षेत्र में फंसे हुए हैं। आतंकवादियों को ढेर करने के लिए सेना भी लगातार जमे हुए हैं. बता दें कि पिछले दो हफ्तों में कश्मीर में टारगेट किलिंग और नागरिकों की हत्या के बाद चनापोरा क्षेत्र में (Special Operations Group) एसओजी श्रीनगर द्वारा आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया. जिसके बाद जवानों को इस इलाके में आतंकियों के छुपे रहने का पता लग पाया.

इससे पहले बुधवार को पुलिस और सुरक्षा कर्मियों की एक जॉइन्ट टीम ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों पर कार्रवाई करते हुए शोपियां जिले में एक मुठभेड़ के दौरान दो आतंकवादियों को मार गिराया था. इलाके में आतंकवादियों के रहने की गुप्त सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने शोपियां में तलाशी अभियान चलाया. रिपोर्ट्स के मुताबिक इस टकराव में सेना के तीन जवान भी घायल हो गए थे. बता दें दो आतंकवादी बिहार के दो गरीब मजदूरों की हत्या में शामिल थे.  पुलवामा में एक बढ़ई सगीर अहमद की हत्या के लिए जिम्मेदार आदिल आह वानी मारे गए दो आतंकवादियों में से एक था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button