देशबड़ी खबर

DDMA का आदेश- दिल्ली में आज से सभी प्राइवेट ऑफिस बंद रहेंगे, रेस्टोरेंट और बार भी बंद

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र DDMD (दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी) ने फिलहाल सभी प्राइवेट दफ्तर बंद करने का आदेश दिया है. सिर्फ उन निजी दफ्तरों को खुलने की इजाजत है जो जरूरी सेवाओं से जुड़े हैं. इस आदेश के बाद स्पष्ट है कि दिल्ली में अब प्राइवेट दफ्तरों के कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम ही करेंगे.

मंगलवार को दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सभी प्राइवेट दफ्तरों को बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है. सभी रेस्टोरेंट और बार को भी बंद कर दिया गया है. दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी आने वाले दिनों में कोरोना के नए मामलों की संख्या के आधार पर प्रतिबंधों को और कड़े कर सकती है. इस मामले में CM अरविंद केजरीवाल मंगलवार दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं. इसमें राजधानी में कोरोना के हालात पर समीक्षा की जाएगी. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली में सख्ती पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है.

लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के केस

राजधानी दिल्ली में कोरोना की डराती रफ्तार ने सरकार की भी टेंशन बढ़ा दी है. दिल्ली में अब तक 15,68,896 लोग COVID-19 संक्रमण से संक्रमित हो चुके हैं. हालांकि दिल्ली सरकार ने साफ़ कर दिया है कि अभी लॉकडाउन नहीं लगेगा. दिल्ली में सोमवार को एक दिन में कोरोना के 19,166 नए केस सामने आए और 17 और मौतों के साथ पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 25 प्रतिशत हो गया, जो पिछले साल चार मई के बाद सबसे अधिक है.

दिल्ली में रविवार को भी 17 लोगों की कोविड की मौत हो गई थी. केवल 10 दिनों में, दिल्ली में 70 कोविड मौतें दर्ज की गई हैं. रविवार को दर्ज किए गए 22,752 नए मामले पिछले साल 1 मई के बाद से सबसे अधिक थे, जब शहर में 31.61 प्रतिशत की पॉजिटिविटी रेट के साथ 25,219 केस सामने आए थे.

सोमवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली में सोमवार को कुछ कम मामले देखे गए, इसका कारण यह था कि पिछले दिन किए गए टेस्ट की संख्या एक दिन पहले की तुलना में कम थी. फिलहाल कुल 1,912 कोविड मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं. उनमें से 65 वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं, सरकारी आंकड़ों से पता चलता है. 17 और मौतों के साथ वर्तमान में कुल मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 25,177 हो गया है. हालांकि, पिछले 24 घंटों में COVID-19 से कुल 14,076 लोग ठीक हुए हैं, जिससे राजधानी में कुल ठीक होने वालों की संख्या 14,77,913 हो गई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button