देशबड़ी खबर

‘CWC की कम परिवार बचाओ वर्किंग कमेटी की बैठक ज्यादा’, कांग्रेस की मीटिंग पर बीजेपी ने साधा निशाना

कांग्रेस कार्य समिति की बैठक बीजेपी नेता गौरव भाटिया ने कांग्रेस पर हमला बोला है. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, कांग्रेस में अंदरूनी कलह के बाद G-23 नेताओं के समूह की बार-बार मांग के बाद बैठक तो बुलाई गई, लेकिन कांग्रेस अध्यक्षा जी की शुरुवाती टिप्पणियां के बाद ये बिल्कुल स्पष्ट हो गया कि इस बैठक का मकसद कांग्रेस की आंतरिक कलह, नेतृत्व की विफलताएं हैं. उन्होंने कहा, ये भी कहना गलत नहीं होगा कि ये CWC यानि कांग्रेस वर्किंग कमेटी कम है और PBWC यानि परिवार बचाओ वर्किंग कमेटी की बैठक ज्यादा लगती है. अभी तक ये ज्ञात था कि कांग्रेस पार्टी की वर्किंग अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं. गौरव भाटिया ने कहा, कांग्रेस के G-23 के वरिष्ठ नेता कहते हैं कि कांग्रेस पार्टी आज उस जहाज की तरह है, जिसको ये नहीं पता कि उसका कैप्टन कौन है?, उसकी दिशा क्या है? राहुल गांधी बार बार ये कहते हैं कि लोकतंत्र खतरे में है. लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस पार्टी में तो आतंरिक लोकतंत्र भी अब नहीं बचा है.

कपिल सिब्बल का उठाया मुद्दा?

उन्होंने आगे कहा, कपिल सिब्बल जी ने जब मुद्दा उठाया, तो उनके घर पर ही कुछ लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. जो सिंघु बॉर्डर पर हुआ, हम सभी ने देखा है. एक दलित भाई को निर्मम तरीके से मार दिया जाता है. ये वो अराजक तत्व हैं जो किसानों के कंधों पर अपनी बंदूके रखकर राजनीतिक रोटियां सेक रहे हैं. क्या ऐसी तालिबानी सोच की जो घटना सामने आई हैं और कांग्रेस वर्किंग कमेटी में इतना भी समय नहीं है कि वो इस पर चर्चा करे. क्या कांग्रेस पार्टी आज तालिबानी सोच के साथ खड़ी है?

बीजेपी नेता ने कहा, राकेश टिकैत ने कहा है कि आयोजकों की कोई जिम्मेदारी नहीं है. देश की जनता पूछ रही है कि अगर आप एक प्रदर्शन का आयोजन करते हैं और उसमें तिरंगे का अपमान किया जाता है, अराजकता फैलाई जाती है, दलित युवक की हत्या कर दी जाती है, तो प्रदर्शन का आयोजन करने वालों की जिम्मेदारी क्या होती है?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button